Friday , November 24 2017
Home / World / उच्चायुक्त के साथ हुए व्यवहार पर भारत ने पाकिस्तान से जताई नाराज़गी

उच्चायुक्त के साथ हुए व्यवहार पर भारत ने पाकिस्तान से जताई नाराज़गी

पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त गौतम बम्बावाले के साथ हुई ‘‘अशिष्टता’’ को लेकर भारत सरकार ने आज पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित को तलब कर इस घटना पर अपना विरोध दर्ज कराया ।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा, ‘‘पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को आज विदेश मंत्रालय तलब किया गया और भारतीय उच्चायुक्त के साथ हुई अशिष्टता पर सचिव (पश्चिम) की ओर से भारत सरकार की चिंताएं जाहिर की गईं ।’’ कल कराची चैंबर ऑफ कॉमर्स की ओर से आखिरी वक्त में एक कार्यक्रम रद्द कर बम्बावाले के प्रति दिखाए गए अनादर पर बासित को भारत की राय बताई गई । बम्बावाले को कराची चैंबर ऑफ कॉमर्स के इस कार्यक्रम को संबोधित करना था । इस कार्यक्रम के लिए बम्बावाले को मिला न्योता उन्होंने करीब दो हफ्ते पहले ही स्वीकार किया था ।

विकास ने कहा, ‘‘उन्हें :बासित को: हमारी इस उम्मीद के बारे में भी बताया गया कि पाकिस्तान में हमारे मान्यता प्राप्त राजनयिकों को बगैर किसी बाधा के अपना सामान्य कामकाज करने दिया जाएगा ।’’ इस साल जनवरी में पाकिस्तान में भारत के उच्चायुक्त का पद संभालने के बाद पहली बार कराची की यात्रा पर गए बम्बावाले को कार्यक्रम से महज आधे घंटे पहले बताया गया कि कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है । आयोजकों ने उन्हें कार्यक्रम रद्द होने की कोई वजह नहीं बताई ।

बहरहाल, भारतीय अधिकारियों का मानना है कि कश्मीर में पाकिस्तान के दखल के बाबत सोमवार को बम्बावाले की ओर से दिए गए बयान से ‘‘पाकिस्तानी अधिकारी उद्वेलित हो गए और इस वजह से कार्यक्रम रद्द कर दिया गया ।’’ विदेश संबंधों पर कराची काउंसिल की ओर से आयोजित एक परिचर्चा के दौरान बम्बावाले ने कश्मीर में पाकिस्तान के दखल पर निशाना साधते हुए कहा था कि शीशे के घरों में रहने वालों को दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकने चाहिए ।

(भाषा)

TOPPOPULARRECENT