Thursday , January 18 2018

उज़बेकिस्तान में तीन ख़वातीन को जासूसी के जुर्म में सज़ा

उज़बेकिस्तान की एक अदालत ने तीन ख़वातीन को तवील मुद्दती सज़ाए कैद सुनाई है। मुबय्यना तौर पर ये ख़वातीन पड़ोसी मुल्क ताजिकस्तान के लिए उज़बेकिस्तान में जासूसी कर रही थीं। मुक़ामी अख़बारात की इत्तिला के बमूजब(मोताबिक) दोनों ममा

उज़बेकिस्तान की एक अदालत ने तीन ख़वातीन को तवील मुद्दती सज़ाए कैद सुनाई है। मुबय्यना तौर पर ये ख़वातीन पड़ोसी मुल्क ताजिकस्तान के लिए उज़बेकिस्तान में जासूसी कर रही थीं। मुक़ामी अख़बारात की इत्तिला के बमूजब(मोताबिक) दोनों ममालिक के ताल्लुक़ात तवील अर्सा से कशीदा हैं।

इन अफ़राद को जुनूबी सुरख़ान दारिया सूबा की अदालत की जानिब से 14 ता 15 साल सज़ाए कैद साज़िश और जासूसी के जुर्म में सुनाई गई ।

मुक़द्दमा के बमूजब(मोताबिक) ख़वातीन मुल्ज़िमीन ने ताजिकस्तान के महिकमा खु़फ़ीया से माली फ़वाइद के लिए साज़िश की थी और उसे उज़बेकिस्तान की फ़ौजी तनसीबात (ठेकाने)और नफ़ाज़ क़ानून इदारों के बारे में मालूमात फ़राहम की थीं।

TOPPOPULARRECENT