Monday , December 18 2017

उतराखनड : हद बसारत में कमी के बावजूद बचाओ कार्रवाई जारी

हिमाचल प्रदेश के ज़िला कंवर में हनूज़ 200 अफ़राद फंसे हुए हैं

हिमाचल प्रदेश के ज़िला कंवर में हनूज़ 200 अफ़राद फंसे हुए हैं
दहरादून 27 जून (पी टी आई) उतराखनड में कई मुक़ामात पर मतला अब्र-ए-आलूद होने और हद बसारत में कमी वाक़्य होने के बावजूद फ़िज़ाई बचाओ कार्यवाहीयां जारी हैं। हालाँकि अली उल-सुबह हल्की धुंद की वजह से हैलीकाप्टरस की सहासरा धारा हैली पयाड और जाली ग्रांट एय‌रपोर्ट से हैलीकाप्टरस की परवाज़ में ताख़ीर हुई। मौसम बचाओ कार्यवाईयों में सब से बड़ी रुकावट बन गया है।

नाख़ुशगवार मौसम की वजह से कल सड़ती हुई नाशों की आख़िरी रसूमात अदा नहीं की गईं।ताहम ओहदेदारों को आज आख़िरी रसूमात यक़ीनी बनाने की हिदायत दी गई है क्योंकि वबाएं फैलने का अंदेशा पैदा होगया है। उतराखनड में बचाओ कार्रवाई में मसरूफ़ फ़ौजीयों की हलाकत पर चीफ़ मिनिस्टर विजय‌ बहू गुना ने उसे क़ौमी नुक़्सान क़रार देते हुए एक रोज़ा रियास्ती सोग का और महलोकीन के विरसा-ए-को 10 लाख रुपय मुआवज़ा अदा करने का ऐलान किया।

ताहाल 2403 फंसे हुए अफ़राद को बचा लिया गया है। चीफ़ मिनिस्टर ने वादई गंगोत्री का दौरा किया। मानीरी और भटवारी का फ़िज़ाई मुआइना किया। चनयालीसोर और माटली में मुतास्सिरा अफ़राद से मुलाक़ात की और सूरत-ए-हाल का जायज़ा लिया। तमाम ज़िला मजिस्ट्रेटस को हिदायत दी कि पहूंचने वाले नुक़्सान का तजज़िया किया जाये और तरजीही बुनियादों पर बहाली का काम शुरू किया जाये।

शिमला से मौसूला इत्तिला के बमूजब हनूज़ 200 अफ़राद बारिश से मुतास्सिरा रियासत हिमाचल प्रदेश के ज़िला कंवर में फंसे हुए हैं। ये लोग गुज़िश्ता 10 दिन से फंसे हुए हैं। आज भी बचाओ कार्रवाई मुम्किन ना होसकी। हिन्दुस्तानी फ़िज़ाईया और रियास्ती हुकूमत के हैली काप्टरस नासाज़गार मौसम की बिना पर परवाज़ नहीं करसके।

ये तमाम हैलीकाप्टरस रामपुर में रुके हुए हैं ताकि पोह, नाको, गैबॉइंग और दीगर मुक़ामात पर राहत रसानी और बचाओ कार्रवाई अंजाम दें। लेकिन मौसमी हालात धुंद और बारिश की वजह से नासाज़गार हैं। हिन्दुस्तानी बहरीया और रियास्ती हैलीकाप्टरस ताहाल 1393 अफ़राद का तख़लिया करचुके हैं। लेकिन मज़ीद 200 अफ़राद बिशमोल मुक़ामी शहरी अब भी मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर हैलीकाप्टरस के मुंतज़िर हैं।

ओहदेदारों ने जो हैलीकाप्टरस की परवाज़ में तआवुन कररहे हैं, कहा कि मौसम बेहतर होते ही अफ़राद का तख़लिया करवाने की कोशिश की जाएगी। चँवर असेम्बली हलक़ा मंडी पारलीमानी हलक़े में शामिल है, जहां पर 23 जून को मुक़र्ररा रायदही कई मुक़ामात पर कल मुनाक़िद की जाएगी। 52 हज़ार से ज़्यादा राय दहनदे हक़ रायदही से इस्तिफ़ादा करेंगे।कल शाम मानीरी, भटवारी, हरसील और बद्री नाथ से मज़ीद एक हज़ार अफ़राद को बराह सड़क मुंतक़िल किया गया।

TOPPOPULARRECENT