Sunday , December 17 2017

उत्तरप्रदेश में मुग़लिया दौर-अशोक सिंघल

वी एचपी के सरकर्दा लीडर प्रवीण तोगाड़िया और अशोक सिंघल गिरफ़्तारी के बाद उत्तर प्रदेश में लाहात और कशीदा हो गये हैं। उत्तरप्रदेश इंतिज़ामिया ने मुतनाज़ा यात्रा पर इमतिना आइद कर दिया है।

वी एचपी के सरकर्दा लीडर प्रवीण तोगाड़िया और अशोक सिंघल गिरफ़्तारी के बाद उत्तर प्रदेश में लाहात और कशीदा हो गये हैं।
उत्तरप्रदेश इंतिज़ामिया ने मुतनाज़ा यात्रा पर इमतिना आइद कर दिया है।

अयोध्या में कल आर एस एस ने इस यात्रा का अलामती तौर पर इफ़्तिताह किया। प्रवीण तोगाड़िया को अयोध्या में गिरफ़्तार कर लिया गया जबकि अशोक सिंघल को लखनऊ एयरपोर्ट पर तहवील में ले लिया गया। वो नई दिल्ली से स्वामी रामभद्राचार्या के हमराह यहां पहूंचे थे और अयोध्या जाने के लिए इसरार कररहे थे लेकिन ओहदेदारों ने उन्हें हिरासत में ले लिया। प्रवीण तोगाड़िया ने अयोध्या में गोला घाट इलाक़े में गिरफ़्तारी के बाद कहा कि हुकूमत उत्तरप्रदेश की जानिब से चौरासी कोसी परीकरमा यात्रा पर इमतिना के ख़िलाफ़ कल मुल्क भर में एहितजाजी मुज़ाहिरे किए जाऐंगे। उन्होंने कहा ये तहरीक मुल्क के हर गांव तक पहूंचेगी और कल तमाम ज़िला हेडक्वार्टर्स पर एहितजाजी धरना मुनज़्ज़म किया जाएगा।

हुकूमते उत्तरप्रदेश के साथ महाज़ आराई की रविष इख़तियार करते हुए राम जन्मभूमि के नृत्य गोपाल दास ने गिरफ़्तारी से क़ब्ल मंदिर के बाहर दस क़दम चलते हुए इस यात्रा का इफ़्तिताह किया। तोगाड़िया और सिंघल के इलावा इंतिज़ामिया ने 500 से ज़ाइद अफ़राद बशमोल साबिक़ बी जे पी रुक्न पार्लीमैंट और मौजूदा रुक्ने असेंबली को भी गिरफ़्तार करलिया।

अशोक सिंघल को जिन्हें एयरपोर्ट से बाहर निकलने की इजाज़त नहीं दी गई, ये जानना चाहा कि उन्हें क्यों गिरफ़्तार किया जा रहा है। उन्हों ने कौनसा जुर्म किया है। इंतिज़ामिया को उसकी वज़ाहत करनी चाहीए। उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश में मुग़्लिया दौर है जहां साधुओं और संतों को पूजा से रोका जा रहा है। जब उनसे पूछा गया कि क्या वो दिल्ली वापिस जाऐंगे, अशोक सिंघल बरहम होगए और कहा कि वो दिल्ली क्यों वापिस जाऐंगे।

TOPPOPULARRECENT