Friday , December 15 2017

उत्तराखंड: बारिश ने फिर उड़ाई नींद

गढ़वाल, 7 जुलाई: उत्तराखंड में रुक-रुककर हो रही बारिश और भारी बरसात का इंतेबाह ने लोगों की नींद उड़ा रखी है। मुसीबतज़दा इलाकों में लोग रात जाग जाग कर बिता रहे हैं तो कहीं घर छोड़कर टेंट में रह रहे हैं।

गढ़वाल, 7 जुलाई: उत्तराखंड में रुक-रुककर हो रही बारिश और भारी बरसात का इंतेबाह ने लोगों की नींद उड़ा रखी है। मुसीबतज़दा इलाकों में लोग रात जाग जाग कर बिता रहे हैं तो कहीं घर छोड़कर टेंट में रह रहे हैं।

साहिली इलाके के लोग गांव खाली कर रहे हैं। महकमा मौसमियात ने चमोली और कुमाऊं के पिथौरागढ़, बागेश्वर में इतवार को भी भारी बारिश के इम्कान जताए है।

उत्तरकाशी में जुमे की शाम से रुक-रुककर बारिश हो रही है। इससे भागीरथी के पानी का सतह बढ़ गया है। मणिकर्णिका और जड़भरत घाट के बीच कटाव तेज हो गया है।

खतरे की जद में आए घरों के लोग सामान लेकर महफूज़ वाले ठिकानों की ओर जाने लगे हैं।

इस हिस्से में वायरक्रेट डालने का काम पत्थरों की कमी से तकरीबन रुका हुआ है। गंगोरी, लक्षेश्वर, तिलोथ, जोशियाड़ा, ज्ञानसू और शहरी इलाके के बाशिंदे असी गंगा व भागीरथी नदी से तबाही को लेकर खदशे मे हैं ।

असी गंगा घाटी में खतरे की जद में आने वाले गांवों के खाली होने का सिलसिला जारी है। चमोली जिले के कई इलाकों में जुमेरात के दिन दोपहर से रुक-रुककर बारिश हो रही है। सबसे ज़्यादा तकलीफ गाँव वाले झेल रहे हैं, जो कि बारिश के खदशे को देखते हुए घर छोड़कर टेंट में रात गुजार रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT