Sunday , September 23 2018

उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के लिए सीमा पर हॉटलाइन सेवा दोबारा चालू किया

सियोल : उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के लिए निलंबित सीमा पर हॉटलाइन सेवा को दोबारा खोल दिया है, एक दिन बाद सियोल ने 2018 शीतकालीन ओलंपिक में भाग लेने पर विचार करने के लिए प्योंगयांग के साथ उच्च स्तरीय वार्ता की पेशकश की ।

फरवरी 2016 में हॉटलाइन को निलंबित कर दिया गया था जो संयुक्त रूप से दोनों देशों द्वारा संचालित किया गया था। यह बुधवार को 3 बजे स्थानीय समय (06:30 जीएमटी) पर पनमुनजोम के सीमावर्ती गांव में बहाल किया गया ।

दक्षिण कोरिया के मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया ने प्रारंभिक संपर्क किया और अधिकारियों ने जांच की कि क्या फोन लाइन अच्छी तरह से काम कर रही थी या नहीं। बातचीत 20 मिनट तक चली।

दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया को 9 जनवरी को उच्च-स्तरीय बैठक की पेशकश की है. इस बैठक में साल 2018 के विंटर ओलंपिक में प्योंगयांग के शामिल होने की संभावनाओं पर चर्चा होनी है. ये पेशकश उत्तर कोरिया के अगुवा किम जोंग-उन के उस बयान के बाद की गई है जिसमें उन्होंने कहा था कि वो फ़रवरी में दक्षिण कोरिया में होने वाली गेम्स में हिस्सा लेने के लिए अपनी टीम को प्योनचांग भेजने पर विचार कर रहे हैं. उन्होंने कहा था कि दोनों पक्षों को तुरंत बैठकर संभावनाओं पर चर्चा करनी चाहिए. किम ने दक्षिण कोरिया को सलाह दी थी कि, दोनों कोरियाई देशों के अधिकारियों को संभावनाएं तलाशने के लिए तुरंत मिलना चाहिए.

किम जोंग को पता है कि उन्हें दक्षिण कोरिया की ज़रूरत है. विंटर ओलंपिक इसके लिए एक सही मौक़ा था. राष्ट्रपति मून ने संकेत दिया है कि वे किम जोंग से परमाणु कार्यक्रम पर बात करने की भी कोशिश करेंगे. उत्तरी कोरियाई एकीकरण समिति के अध्यक्ष रिन बेटा गाउन ने कहा कि उत्तर कोरिया ईमानदारी से दक्षिण के साथ अटैच होगा।

हालांकि, राष्ट्रपति मून जेए-इन ने कहा कि रिश्तों में किसी भी सुधार को हाथ से नहीं जाने देना चाहिए जिससे डिप्लिअलाइजेशन की दिशा में कदम हो। उत्तर और दक्षिण के बीच किसी भी आगामी बातचीत की सामग्री परमाणुकरण के बारे में नहीं होगा, लेकिन हथियारों के नियंत्रण के बारे जरूर होगा .

अमेरिकी अधिकारियों कोरियाई देशों के बीच सार्थक वार्ता की संभावना को खारिज कर दिया है। अमेरिकी राज्य विभाग के प्रवक्ता हीथर नॉर्ट ने भी चेतावनी दी कि किम अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच किसी प्रकार की पट्टी को चलाने की कोशिश न करे। हालांकि चीन ने कोरिया वार्ता की संभावना को सकारात्मक संदेश के रूप में वर्णित किया है.

TOPPOPULARRECENT