उत्तर प्रदेश : छेड़छाड़ करने वाले लोगों ने महिला को किया आग के हवाले

उत्तर प्रदेश : छेड़छाड़ करने वाले लोगों ने महिला को किया आग के हवाले

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के सीतापुर में एक महिला को 2 दिसंबर को आग लगा दी गई थी, आग वो लगाए जिसने पहले उस महिला से छेड़छाड़ की कोशिश की थी। पीड़िता को आग तब लगाई गई थी जब वह शौचालय जा रही थी कुछ का कहना है कि उन दोनों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए पुलिस स्टेशन जाने के रास्ते में थी तभी उसे आग के हवाले किया गया। हालांकि, महिला की जान बच गई. हैरान करने वाली बात है कि 28 साल की महिला ने दो बार पुलिस में शिकायत करने की कोशिश भी की, मगर स्थानीय पुलिस थाने के पुलिसवालों ने उसे वापस लौटा दिया. बताया जा रहा है कि महिला का शरीर 60 फीसदी जल चुका है और अभी वह सीतापुर के अस्पताल में गंभीर हालत में है.

हालांकि, दोनों आरोपी राजेश और रामू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उनके खिलाफ यौन शोषण और हत्या का प्रयास का मामला दर्ज किया है. पुलिस ने कहा कि काम में लापरवाही के चलते स्टेशन हाउस ऑफिसर यानी एसएचओ समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.

इस मामले की जांच कर रहे लखनऊ जोन के सीनियर पुलिस अधिकारी सुजीत पांडे ने कहा कि ‘दो लोगों ने शौचालय जाने के दौरान उसे आग लगा दी. पीड़ित महिला के बयान के अनुसार, 29 नवंबर को, उन दोनों ने उससे छेड़छाड़ करने की कोशिश की. महिला ने दो बार पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की मगर, पुलिसवालों ने इनकार कर दिया गया. काम में लापरवाही के लिए आरोपी पुलिसवालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.’

पीड़ित महिला के रिश्तेदारों ने रिपोर्टर्स से कहा कि जब वह अपने मां-बाप के घर जा रही थी, तब उसके साथ राजेश और रामू ने यौन शोषण किया. आरोपी उनके गांव के ही हैं. इससे पहले भी उन्होंने छेड़छाड़ करने की कोशिश की थी, मगर उस वक्त वह बच निकलने में कामयाब रही थी.

उसके परिवार ने आरोप लगाया कि जब वह आरोपी से छेड़छाड़ करने की कोशिश करने के तुरंत बाद स्थानीय पुलिस स्टेशन गई, तो ड्यूटी पर तैनात पुलिस ने उसे वापस भेज दिया. अगले दिन उसके ससुराल वालों ने पुलिस कंट्रोल रूम यानी पीसीआर वैन को अपने घर पर बुलाया लेकिन फिर पुलिस ने उसे पुलिस स्टेशन जाने को कहा.

Top Stories