उत्तर प्रदेश: पुलिस कस्टडी में मारे गए दलित युवक के भाई ने कहा-“हमें फुटबॉल की तरह मारा गया”

उत्तर प्रदेश: पुलिस कस्टडी में मारे गए दलित युवक के भाई ने कहा-“हमें फुटबॉल की तरह मारा गया”

कानपुर : ‘हमें फुटबॉल की तरह मारा गया’. यह कहना है कमल वाल्मीकी के छोटे भाई निर्मल का. कमल की मौत पुलिस कस्टडी में हो गयी है. उसके छोटे भाई निर्मल से भी एक लूट के मामले में पूछताछ की जा रही थी, लेकिन उसके भाई की मौत के बाद पुलिस ने उसे छोड़ दिया. निर्मल ने बताया कि उससे यह कहा गया कि या तो जुर्म कुबूल करो या फिर तुम्हारे भाई को मार दिया जायेगा. कल गुरुवार की सुबह कमल लॉक अप में मृत पाया गया.

इस पुलिस चौकी के सभी 15 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. एक को हत्या के मामले में अभियुक्त बनाया गया है. कमल के परिवार वालों का कहना है कि कमल की मौत अत्यधिक पिटाई के कारण हुई है. उसे राड से मारा गया था. कमल और उसके भाई निर्मल को लूट के मामले में पूछताछ के लिए कस्टडी में रखा गया था. कमल चूंकि दलित वर्ग का था, इसलिए उसकी मौत के बाद लोग उग्र प्रदर्शन करने लगे.

Top Stories