उत्तर भारतीयों को भगाने पर गुजरात के CM रूपाणी को दिखाये गये काले झंडे

उत्तर भारतीयों को भगाने पर गुजरात के CM रूपाणी को दिखाये गये काले झंडे
Click for full image

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रविवार को गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी को उनके राज्‍य से उत्‍तर प्रदेश और बिहार के मूल निवासियों को निकाले जाने के विरोध में काले झंडे दिखाए.

कांग्रेस पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं ने रूपाणी को उस समय काले झंडे दिखाने का प्रयास किया जब उनका काफिला यहां वीआईपी गेस्टहाउस क्षेत्र से गुजर रहा था. पुलिस ने हालांकि उन्हें रोक दिया.एयरपोर्ट से देर शाम गुजरात के सीएम पांच काली दास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास जा रहे थे, इस बीच लाल बत्ती चौराहे के समीप कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर आ गए और नारेबाजी करते हुए काले झंडे दिखाए. बता दें कि गुजरात में उत्तर प्रदेश के लोगों पर अत्याचार हो रहा है. उसी का विरोध करने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतरे थे.

समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा के मुताबिक, उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस के मीडिया समन्‍वयक राजीव बख्‍शी ने दावा किया कि कांग्रेस के यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उत्‍तर प्रदेश के दौरे पर आए गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी को काले झंडे दिखाये और उनके खिलाफ नारे भी लगाए. उन्‍होंने बताया कि पुलिस ने करीब 150 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया, लेकिन उन्हें बाद में रिहा कर दिया.

रूपाणी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 31 अक्टूबर को गुजरात में नर्मदा नदी के किनारे सरदार वल्लभभाई पटेल की ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ के अनावरण समारोह में आमंत्रित करने के लिए शाम में लखनऊ पहुंचे थे.

वहीं अपने सरकारी आवास पर मुख्यमंत्री योगी  ने रूपाणी का स्वागत किया. बताया जा रहा है कि दोनों मुख्यमंत्रियों में गुजरात में हाल में हुए उत्तर भारतीयों पर हमले, 31 अक्टूबर को देश के पहले उपप्रधानमंत्री एवं गृहमंत्री की मूर्ति स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अनावरण कार्यक्रम और उसके पास बनने वाले एक भारत श्रेष्ठ भारत कांप्लेक्स के पास यूपी भवन के लिए जमीन आवंटित करने के बारे में बात हुई.

Top Stories