Sunday , June 24 2018

उबेर के सह-संस्थापक अपनी नई क्रिप्टोकरेंसी करेंगे लॉन्च

न्यूयॉर्क: पीयर-टू-पीयर राइडशेयरिंग, फूड डिलीवरी, और ट्रांसपोर्ट नेटवर्क कंपनी उबेर के सह-संस्थापक, गर्रेत्त कैंप, अपनी क्रिप्टोकरेंसी – ‘ईको’ लॉन्च कर रहें हैं।

कैंप, जो एक्सीलेटर फंड एक्सपा के संस्थापक भी हैं, ‘ईको’ को एक डिजिटल वैश्विक मुद्रा बनाना चाहते हैं जो कि दैनिक उपयोग लेनदेन के लिए दुनिया भर में भुगतान उपकरण के रूप में इस्तेमाल किया जा सके।

टेकक्रंच के मुताबिक, इको के लिए एक ट्रिलियन टोकन शुरू में जारी किए जाएंगे, जिनमें से आधे हिस्से को पहले एक अरब सत्यापित इंसानों को दिया जाएगा जो साइन अप करेंगे।

दूसरे आधे से 20 प्रतिशत विश्वविद्यालय भरोसेमंद नोड्स चलाएंगे, 10 प्रतिशत सलाहकारों को दिए जाएंगे, 10 प्रतिशत सामरिक भागीदारों को देंगे, और 10 प्रतिशत नए गठित इको फाउंडेशन में जाएंगे जो कि नेटवर्क को बनाने और बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होगा।

कैंप और एक्सपा से संबद्ध कुछ छोटे सहयोगी एक ऑपरेटिंग बजट के साथ फाउंडेशन को 10 मिलियन अमरीकी डालर का दान देंगे।

ईको के शुरुआती श्वेत पत्र में कहा गया है कि वह क्रिप्टोकरेंसी के साथ मिलकर कुछ मुख्य मुद्दों पर सुधार करना चाहता है।

यह नेटवर्क समर्थन और लेन-देन पुष्टिकरण के लिए केवल सत्यापित नोड का उपयोग करना चाहता है, जिसका अर्थ है कि किसी अज्ञात को नोड नहीं चलाया जा सकता है और लेन-देन की पुष्टि की जा सकती है जैसे कि कोई बिटकॉइन नेटवर्क पर कर सकता है।

जबकि यह अनिवार्य रूप से 51 प्रतिशत हमलों या धोखाधड़ी के अन्य कृत्यों के मुद्दों को हटा देता है, इसका भी अर्थ है कि ईको वास्तव में विकेंद्रीकृत नहीं होगा।

ईको में एक बड़ी टोकन की आपूर्ति (एक ट्रिलियन, कम से कम शुरू में) और सिंपल वेब और मोबाइल एप्लिकेशन भी होगी।

TOPPOPULARRECENT