उरदन के शहज़ादा की अक़वाम-ए-मुत्तहिदा में जिहादियों की स्याह दुनिया पर तन्क़ीद

उरदन के शहज़ादा की अक़वाम-ए-मुत्तहिदा में जिहादियों की स्याह दुनिया पर तन्क़ीद
अक़वाम-ए-मुत्तहिदा

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा

अरदन के 20 साला वलीअहद हुसैन बिन अब्दुल्लाह ने पुर तशद्दुद इंतेहापसंदी के मुक़ाबले में नौजवानों का किरदार के मौज़ू पर मुनाक़िदा मुबाहिसा की जो सलामती काउंसल में मुनाक़िद किया गया था, सदारत करते हुए कहा कि दुनिया के नौजवानों को इस्लामी इंतेहापसंदों की स्याह दुनिया की तरग़ीब से बचाने के लिए इक़दामात की ज़रूरत है।

वो कमसिन तरीन शख़्स हैं जिन्होंने सलामती काउंसल के इजलास की सदारत की है। अरदन अगस्त में नौजवान बहाली-ए-अमन कारकुनों को इंतेहापसंदी और दहशतगर्दी का मुक़ाबला करने एक बैन-उल-अक़वामी कान्फ़्रैंस का मेज़बान होगा।

Top Stories