उर्दू असातिज़ा की मख़लवा जायदादों की DSC मैं शमूलीयत का मुतालिबा

उर्दू असातिज़ा की मख़लवा जायदादों की DSC मैं शमूलीयत का मुतालिबा
नालगोंडा, १४ जनवरी (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) ज़िला के सरकारी और ज़िला परिषद के उर्दू मदारिस की मख़लवा और मंज़ूर करदा असातिज़ा की जायदादों के साथ साथ 6 प्राइमरी स्कूलों को अपग्रेड करते हुए इन ख़्यालात को भी डी एस सी 2012-ए-के आलामीया में श

नालगोंडा, १४ जनवरी (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) ज़िला के सरकारी और ज़िला परिषद के उर्दू मदारिस की मख़लवा और मंज़ूर करदा असातिज़ा की जायदादों के साथ साथ 6 प्राइमरी स्कूलों को अपग्रेड करते हुए इन ख़्यालात को भी डी एस सी 2012-ए-के आलामीया में शामिल करने का मुतालिबा करते हुए सदर ज़िला
ऑल मायनारीटी इम्पलाइज़ वेलफेयर एसोसीएसन जनाब मुहम्मद मुजीब उद्दीन ताहिर की क़ियादत पर मुश्तमिल वफ़द ज़िला मुहतमिम तालीमात मिस्टर मदनमोहन से तहरीरी याददाश्त पेश करते हुए मुतालिबा किया।

वफ़द में मसरज़ सैयद मुज्तबा हुसैन, हाफ़िज़ मीर अहमद उद्दीन, हबीब मुहम्मद, ख़्वाजा क़ुतुब
उद्दीन, मुहम्मद यूसुफ़, मुहम्मद अबदुल ग़फ़ूर-ओ-दीगर शामिल थे।

इन क़ाइदीन डिस्ट्रिक्ट एजूकेशन ऑफीसर को बताया कि रियास्ती हुकूमत उर्दू दां तबक़ा में ख़वांदगी में इज़ाफ़ा करने केलिए सहूलतें फ़राहम कर रही है, लेकिन ज़िलई ओहदेदार उर्दू की तमाम जायदादों पर भर्ती करने में जांबदारी से काम ले रहे हैं, जिस की वजह ज़िला में साल 2006-07-ए-में 7 मदारिस को फी कस 2
असातिज़ा की जायदादों की मंज़ूरी हासिल हुई और ज़िला के 11 उर्दू मदारिस मैं 30 जायदादों के मिनजुमला 20 जायदादें मख़लवा हैं और गुज़शता कई बरसों से ज़िला के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर वाक़्य 6 मदारिस को अपग्रेड करने के लिए मंसूबे जात रवाना किए गए हैं, लेकिन मुताल्लिक़ा ओहदेदारों की लापरवाही-ओ-जांबदारी से उन जायदादों को आलामीया में शामिल नहीं किया गया।

इन क़ाइदीन ने जारीया साल की डी एस सी के आलामीया में शामिल करने की ख़ाहिश की, जिस पर ज़िला मुहतमिम ने फ़ौरी मुताल्लिक़ा ओहदेदार को तलब करते हुए मालूमात हासिल करने पर उर्दू को नजरअंदाज़ करने वाले ज़िम्मेदार ओहदेदार ने ज़िला में कोई भी जायदाद को मख़लवा क़रार नहीं दिया, जिस पर वफ़द ने
ज़िला मुहतमिम तालीमात को मुदर्रिसा वारी तौर पर मख़लवा जायदादों की तफ़सीलात फ़राहम करते हुए बताया कि ज़िला के लंगा गिरी (हुज़ूर नगर) में 2, मरी गौड़ा मैं 2, कोदाड़ में 3 के मिनजुमला 2 , पा निगल में 2 , ख़्वाजा बाउली जी यू पी ऐस 2, मानीम चिल्का में 2, नागर जना सागर में एक, रामापुरम पंचायत राज में एक, दो नड्डा पाडो में एक, ललकापोरम पन पहाड़ में एक, माधा रुम और जी ऐच ऐस गर्लज़ भू नगीर में एक एक जायदादें मख़लवा हैं और देवर कुंडा में 2 जायदादें भी शामिल हैं जबकि 2006-07-ए-में जीरपोतला गोड़म नारकट पल्ली, नकरीकल सोमा राम नीरड चरला मंडल , वेंकटरा दी पालयम, सीताराम पोरम गोडी बंडा में फ़ी स्कूल 2 , 2 जायदादों को मंज़ूर किया गया, लेकिन ताहाल इन मदारिस की जायदादों को पर नहीं किया गया।

इन क़ाइदीन ने बताया कि ज़िला के 6 अपग्रेड मदारिस सरकारी स्कूल कोदाड़, पी एसबी बी नगर,
पी एस पालिया, जी यू पी ऐस सागर पी एस चुनीता पली और जी पी एस पा निगल में 2, 2 स्कूल अस्सिटैंट की जायदादें मख़लवा हैं कौडी एससी आलामीया शामिल करने पर ज़ोर दिया। डिस्ट्रिक्ट एजूकेशन ऑफीसर मदनमोहन ने फ़ौरी इन जायदादों से मुताल्लिक़ मालूमात हासिल करते हुए आलामीया में शामिल करवाने की मुम्किना इक़दामात का तीक़न दिया। बादअज़ां इन क़ाइदीन ने बताया कि उर्दू मीडियम मदारिस की मख़लवा जायदादों को जारीया साल डी एससी के आलामीया में शामिल ना करने पर उर्दू दां तबक़ा की जानिब से रियास्ती हुकूमत और मुताल्लिक़ा ओहदेदारों की जांबदारी और तसाहली के ख़िलाफ़ बड़े पैमाने पर
एहतिजाज मुनज़्ज़म करने का इंतिबाह दिया।

इसी दौरान उर्दू एम आर पी नालगोंडा मुहतरमा अंजुम फ़ातिमा ने मुहतमिम तालीमात की हिदायत पर ज़िला के जुमला 16 एस जी टी जिस में ज़िला परिषद के 5 भी शामिल हैं। हिसाब स्कूल अस्सिटैंट की सरकारी और ज़िला पीरशद की एक एक फ़िज़ीकल साईंस स्कूल अस्सिटैंट की एक और ग्रेड II पण्डित की 2 जायदादों को मख़लवा बताते हुए अपनी रिपोर्ट पेश कर दी।

Top Stories