Tuesday , December 12 2017

उर्दू कम्पयूटर सेंटर मरयाल गौड़ा में महिदूद नशिस्तें

रियास्ती उर्दू एकेडमी की तरफ‌ से आज शांति निकेतन बी एड कॉलिज मरयाल गौड़ा में LDTP,DCA कोर्स में दाख़िले के लिए एक अहलीती टेस्ट का इनइक़ाद अमल में लाया गया। जिसमें तक़रीबन तलगो, उर्दू और इंग्लिश मेडियम के 120तलबा-ए-ओ- तालिबात ने शिरकत की।

रियास्ती उर्दू एकेडमी की तरफ‌ से आज शांति निकेतन बी एड कॉलिज मरयाल गौड़ा में LDTP,DCA कोर्स में दाख़िले के लिए एक अहलीती टेस्ट का इनइक़ाद अमल में लाया गया। जिसमें तक़रीबन तलगो, उर्दू और इंग्लिश मेडियम के 120तलबा-ए-ओ- तालिबात ने शिरकत की।

ये इमतिहान सुबह साढे़ दस बजे ता साढे़ बारह बजे दिन में पुरसुकून अंदाज़ अमल में आया। इमतिहानी मर्कज़ का दौरा करने आए चेयरमैन उर्दू घर शादी ख़ाना मुहम्मद हफ़ीज़उद्दीन पाशाह ने बताया कि मरयाल गौड़ा में गुज़िश्ता चार साल से इस तरह का इमतिहान अमल में लाया जा रहा है।

अब तक 240 तलबा-ए-ने इस इमतिहान से इस्तिफ़ादा किया। जबकि इस सेंटर में 60 तलबा-ए-को मेरिट की बुनियाद पर दाख़िले दिये जाता है। उन्होंने रियास्ती हुकूमत और डायरैक्टर सिक्रेट्री प्रोफेसर एस ए शकूर से मुतालिबा किया कि वो इस सेंटर में मौजूदा तलबा‍ की तादाद बढ़ा कर 120करदें।

इस वक़्त इस सेंटर में सिर्फ़ 5 कम्पयूटर हैं जो कि तलबा-ए-के लिए इंतिहाई नाकाफ़ी हैं। उन्होंने सिक्रेट्री उर्दू एकेडेमी, प्रोफेसर एस ए शकूर से मुतालिबा किया कि वो इस सेंटर के लिए कम्पयूटर की तादाद को बढ़ाए ताकि मरयाल गौड़ा के अलावा अतराफ़-ओ-अकनाफ़ के तलबा-ए-ओ- तालिबात इस कोर्स से ज़्यादा से ज़्यादा इस्तिफ़ादा करसकें। इंचार्ज मरयाल गौड़ा उर्दू एकेडेमी सेंटर सैय्यद वली ने इस इमतिहान की निगरानी की।

TOPPOPULARRECENT