Wednesday , December 13 2017

उर्दू के हमदर्द के सी आर की उर्दू प्रोग्रामों में अदम शिरकत पर सवालिया निशान

जश्न तेलंगाना के उर्दू प्रोग्रामों में चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्र शेखर राव की अदम शिरकत का पार्टी के क़ौमी सेक्रेट्री जेनरल डॉक्टर के केशव राव को शिद्दत से एहसास हुआ और उन्हों ने उर्दू प्रोग्रामों के ज़िम्मेदारों पर नाराज़गी ज़ाहिर की।

बताया जाता है कि हैदराबादी तहज़ीब के नुमाइंदा और गंगा जमुनी तहज़ीब के अलम बरदार डॉक्टर केशव राव कल रात तारीख़ी चारमीनार के दामन में ग़ज़ल सिंगर ग़ुलाम अली के प्रोग्राम में शिरकत के लिए पहुंचे।

उन्हों ने इस मौक़ा पर चीफ़ मिनिस्टर की अदमे मौजूदगी के बारे में डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर और दीगर ओहदेदारों से इस्तिफ़सार किया। बताया जाता है कि केशव राव ने इस बात पर नाराज़गी ज़ाहिर की कि मुताल्लिक़ा अफ़राद ने उर्दू के एक भी प्रोग्राम में चीफ़ मिनिस्टर की शिरकत को यक़ीनी बनाने की कोशिश नहीं की।

उन का कहना था कि तारीख़ी चारमीनार के दामन में मुनाक़िदा प्रोग्राम में चीफ़ मिनिस्टर की शिरकत ज़रूरी थी क्योंकि एक तारीख़ी नौईयत का प्रोग्राम है। केशव राव ने कहा कि तारीख़ी चारमीनार के दामन में शाम ग़ज़ल का जिस एहतेमाम से इनेक़ाद अमल में आया इस से क़ुली क़ुतुब शाह दौर की याद ताज़ा हो जाती है।

प्रोग्राम के बाद कई ओहदेदारों ने जो अपने अफ़राद ख़ानदान के साथ पहुंचे थे तारीख़ी चारमीनार के दामन में काफ़ी देर तक तस्वीरकुशी और वीडियोग्राफी के ज़रीया उन तारीख़ी लम्हात को अपने कैमरों में क़ैद कर लिया। इस तरह शाम ग़ज़ल का ये प्रोग्राम बाअज़ ओहदेदारों और उन के अफ़राद ख़ानदान की सैरो तफ़रीह का सबब बन गया।

TOPPOPULARRECENT