Wednesday , December 13 2017

उर्दू, फारसी और अरबी रिफ्रेशर कोर्स की तारीख बढ़ी

12 नवंबर से शरु होने वाले उर्दू, फारसी और अरबी रिफ्रेशर कोर्स की तारीख में तौसीअ कर दी गयी है। अब ये कोर्स 18 अक्तूबर 2013 बरोज पीर से शरु और 8 दिसंबर 2013 को खत्म होगा। ये इत्तिला कोर्स कु-ओर्डिनटर डॉक्टर शबाब जफर आज़मी ने एक प्रेस रिलीज़ में द

12 नवंबर से शरु होने वाले उर्दू, फारसी और अरबी रिफ्रेशर कोर्स की तारीख में तौसीअ कर दी गयी है। अब ये कोर्स 18 अक्तूबर 2013 बरोज पीर से शरु और 8 दिसंबर 2013 को खत्म होगा। ये इत्तिला कोर्स कु-ओर्डिनटर डॉक्टर शबाब जफर आज़मी ने एक प्रेस रिलीज़ में दी है।

उन्होने बताया के एकेडमिक स्टाफ कॉलेज पटना यूनिवर्सिटी के ज़ेरे एहतेमाम उर्दू में इस तरह का कोर्स एक मुद्दत के बाद मुनक्कीद हो रहा है। इसके लिए शोबा उर्दू ने दरख्वास्तें पिछले साल ही तलब की थी मगर मुखतलिफ़ तकनीकी एतराजात और दुशवारियों को दूर करने के सबब उसके एंकाद में तकरीबन एक साल के ताखीर हो गयी। बहर हाल “देर आयद उम्मीद दरुस्त आयद” के मुसदाक अब ये कोर्स 18 नवंबर से ज़रूर शरु होगा और उस कोर्स को ना सिर्फ दिलचस्प बनाबे की कोशिश की जाएगी बालिके ये ख्याल भी रखा जाएगा के यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन के जरिये तय शुदा जाबतों के मुताबिक उसमें शिरकत करने वाले उर्दू असातेज़ा का मुस्तकबिल रोशन से रोशन तर हो जाये।

शहाब जफर आज़मी ने ये भी बताया के 21 दिनों तक चलने वाले इस रिफ्रेशर कोर्स का मौजू उर्दू, फारसी और अरबी इसनाफ आदाब की तदरिस है जिसमें तालीमी व तदरिसी खुतबों के इलावा सकाफती प्रोग्राम होंगे। साथ ही उर्दू असातेज़ा को कम्प्युटर की इब्तेदाई तर्बियत भी दी जाएगी। इसके लिए बिहार के इलावा दूसरी रियासतों के अहम असातेज़ा की खिदमात हासिल की जा रही है। उन्होने बताया के यूनिवर्सिटी जाबतों के मुताबिक दरख्वास्तें जमा करने की तारीख बहुत पहले खत्म हो चुकी है। इसके बावजूद किसी कॉलेज, यूनिवर्सिटी में काम करने वाले लेक्चरर ये कोर्स करना चाहें तो दरख्वास्त की साथ कोर्स कु-ओर्डिनेटर डॉक्टर शहाब जफर आज़मी से या एकेडमिक स्टाफ कॉलेज के कारकुनान से उन के दफ्तर में फौरी तौर पर मुलाक़ात करें। जिनलोगों के नाम मुंतखिब हो चुके है। उन्हें एकेडमिक स्टाफ कॉलेज की तरफ से ज़रूरी हिदायत के साथ खत भेजे जा रहे है, अगर उन्हें 10 नवंबर 2013 तक कोई खत न मिले तो वो शोबा उर्दू या एकेडमिक स्टाफ कॉलेज पटना यू निवर्सिटी से राब्ता कर सकते है।

TOPPOPULARRECENT