Saturday , June 23 2018

उर्दू भवन मोती गली को 15 सितंबर तक आजलाना तकमील की हिदायत

हैदराबाद ०७। सितंबर :जनाब ऐम दाना किशवर सैक्रेटरी महिकमा अक़ल्लीयती बहबूद हुकूमत आंधरा प्रदेश ने मोती गली में वाक़्य उर्दू भवन का अचानक दौरा किया और वहां आडीटोरीयम की तज़ईन और दीगर कामों का जायज़ा लिया और मुताल्लिक़ा अनजीनरस क

हैदराबाद ०७। सितंबर :जनाब ऐम दाना किशवर सैक्रेटरी महिकमा अक़ल्लीयती बहबूद हुकूमत आंधरा प्रदेश ने मोती गली में वाक़्य उर्दू भवन का अचानक दौरा किया और वहां आडीटोरीयम की तज़ईन और दीगर कामों का जायज़ा लिया और मुताल्लिक़ा अनजीनरस को 15 सितंबर तक आडीटोरीयम की तकमील कर के उसे उर्दू एकेडेमी के हवाले कर दें ।

सैक्रेटरी महिकमा अक़ल्लीयती बहबूद के हमराह प्रोफ़ैसर एसएशकूर डायरैक्टर / सैक्रेटरी उर्दू एकेडेमी और दीगर ओहदेदार भी शरीक थे । जनाब ऐमदाना किशवर ने प्रोफ़ैसर एसए शकूर के हमराह आज मुदर्रिसा जामाता इल्मो मनात मुग़लपूरा , ए के ऐम जूनियर कॉलिज-ओ-हाई स्कूल अंबर पेट का भी मुआइना किया ।

जहां उन्हों ने इन मदारिस में दी जाने वाली दीनी और असरी तालीम के मुताल्लिक़ मालूमातहासिल कीं । उन्हों ने जामाता इल्मो मनात के मुख़्तलिफ़ शोबों का तफ़सीली मुआइना किया और वहां तलबा तालिबात से उन्हें दी जाने वाली असरी तालीम के बारे में इस्तिफ़सारकिए । उन्हों ने नाज़िम मुदर्रिसा से तलबा को स्कालर शपस के बारे में सवाल किया ।

नाज़िम मुदर्रिसा मुफ़्ती मस्तान अली कादरी ने बताया कि स्कालर शपस और बस पास के लिए हुकूमत से नुमाइंदगी की गई है लेकिन ताहाल मुदर्रिसा को स्कालरशिप मंज़ूर नहीं हुई है । जनाब ऐम दाना किशवर ने कमसिन तालिबात से क़ुरआन-ए-करीम की तिलावत सुनी और मुख़्तलिफ़ सवालात किए ।

वो इन तालिबात के तालीमी शग़फ़ से बहुत मुतास्सिर हुए । ज़िम्मा दारान मुदर्रिसा ने जनाब ऐम दाना किशवर को मुदर्रिसा के असरी तालीम के शोबों का भी मुआइना करवाया जिन में कम्पयूटर और फ़न्नी तालीम के शोबे भी शामिल हैं । जनाब दाना किशवर ने अंबर पेट में वाक़्य ए के ऐम जूनियर कॉलिज , हाई स्कूल वपराइमरी स्कूल का भी दौरा किया और वहां उर्दू मीडियम और इंग्लिश मीडियम स्कूलों के तलबा तालिबात से उन्हें दी जाने वाली तालीम-ओ-सहूलयात के बारे में सवालात किए और ए के ऐम जूनियर कॉलिज-ओ-स्कूल और हॉस्टल की बेहतर कारकर्दगी की तारीफ़ की और उन स्कूलों के मसाइल के हल के लिए अपने भरपूर तआवुन का तीक़न दिया ।

उन्हों ने इन मदारिस के ज़िम्मेदारों से कहा कि तलबा तालिबात के लिए रोज़गार से मरबूत कोर्सस शुरू करें ताकि तालीम से फ़राग़त के बाद तलबा तालिबात अपने तौर पर रोज़गार हासिल करने के काबिल बन सकें । उन्हों ने इस सिलसिला में मदारिस के ज़िम्मेदारों का एक इजलास मुनाक़िद करने का वाअदा किया

TOPPOPULARRECENT