Saturday , December 16 2017

उर्दू व बांग्ला अजातिज़ा को कैंप लगा कर दिये जायेंगे ताक़र्रुरी लेटर : वजीर

पटना : तालीम और आइटी वजीर डॉ अशोक चौधरी ने कहा कि सरकार छुटे हुए उर्दू व बांग्ला असातिजा को कैंप लगा कर ताक़र्रुरी लीटर बाटेगी. कांग्रेस हेड क्वार्टर सदाकत आश्रम में मुनाक्किद अवामी दरबार में उन्होंने कहा कि 28 दिसंबर तक उर्दू व बांग्ला असातिजा का ताक़र्रुरी हो रहा है. फरवरी तक तक़र्रुरी की अमल पूरी कर ली जायेग. उर्दू असातिजा की तरफ के ताक़र्रुरी को लेकर मसला बताने पर तालीम वजीर ने कहा कि उर्दू असातिजा को नौकरी देना सरकार की तरजीह है.

अवामी दरबार में स्कूल में ताक़र्रुरी की मुतालिबात किये जानेवाले लोगों की तादाद ज्यादा रही. सोशल साइंस सब्जेक्ट में टीइटी पास उम्मीदवारों ने तक़र्रुरी नहीं होने की मसला से जानकारी कराया. सोशल साइंस में वैकेंसी नहीं होने पर हिन्दी सज्ब्जेक्ट में तक़र्रुरी किये जाने का तालीम वजीर से दरख्वास्त किया. इस पर उन्होंने कहा कि सोशल साइंस में वैकेंसी नहीं होने पर सरकार कैसे तक़र्रुरी करेगी. दूसरे सब्जेक्ट में एडजस्टमेंट होने से उस सब्जेक्ट के आनेवाले उम्मीदवार महरूम हो जायेंगे.

उम्मीदवारों के बार-बार दरख्वास्त पर वजीर ने कहा कि तालीम महकमा को इंप्लायमेंट जेनरेट फैक्ट्री समझ लिया गया है. असातिजा पढ़ाने से ज्यादा तनख्वाह बढ़ाने पर जोर दे रहे हैं. पूरे बजट का तालीम पर 25 फीसद खर्च हो रहा है. असातिजा से वजीर ने पूछा कि क्या आउटपुट है. यह भी तो दिखाइये. आइटी के शोबे में तरक्की के बारे में पूछे जाने पर कहा कि वर्क आउट हो रहा है. राजगीर में कॉन्क्लेव बनाने पर सरकार गौर कर रही है.

वजीर ने यकीन दिहानी किया कि सहकारिता वजीर को नोटिस में दिया जायेगा. सदाकत आश्रम में पहुंचनेवाले में कुछ ख्वातीन ने नौकरी की मुतालिबात की. संस्कृत स्कूल के असातिजा, मदरसा असातिजा, महादलित टोला सेवक ने अपनी मसायल रखी. मौके पर एच के वर्मा, अंबुज किशोर झा, उदय शर्मा, रंजीत झा, विनोद कुमार सिंह यादव समेत दीगर लोग मौजूद थे.

 

TOPPOPULARRECENT