Sunday , September 23 2018

उसामा की 2002 में पाकिस्तान मुंतक़ली का इन्किशाफ़

इस्लामाबाद 9 जुलाई (पी टी आई ) उसामा बिन लादैन का ख़ानदान अक्टूबर/नवंबर 2001 में पाकिस्तान मुंतक़िल हो गया था जबकि 11 सितंबर का वाक़िया चंद दिन क़ब्ल ही पेश आया था । अलक़ायदा के सरबराह वस्त 2002 में शहर पिशावर पहुंच गए थे और अपने अरकाने ख़ा

इस्लामाबाद 9 जुलाई (पी टी आई ) उसामा बिन लादैन का ख़ानदान अक्टूबर/नवंबर 2001 में पाकिस्तान मुंतक़िल हो गया था जबकि 11 सितंबर का वाक़िया चंद दिन क़ब्ल ही पेश आया था । अलक़ायदा के सरबराह वस्त 2002 में शहर पिशावर पहुंच गए थे और अपने अरकाने ख़ानदान के साथ क़ियाम पज़ीर थे।

ज़राए इबलाग़ की एक ख़बर के बमूजिब ऐबटाबाद कमीशन की रिपोर्ट में इन्किशाफ़ किया गया है कि दुनिया को इंतिहाई मतलूब उसामा बिन लादैन 2002 में ही पाकिस्तान मुंतक़िल हो चुके थे।

आई एस आई ने सी आई ए को उन टेलीफोन्स के बारे में कोई इत्तिला फ़राहम नहीं की थी । चुनांचे सी आई ए उन टेलीफ़ोन नंबर्स के मालिकों और उन के पसमंज़र के बारे में मुकम्मल तौर पर नावाक़िफ़ था।

मुबैयना तौर पर अल अताश पिशावर में अबू अहमद अली कुवैती के नाम से शोहरत रखता था और कहा जाता था कि वो पाकिस्तान में पैदा हुआ है और उसामा का दस्त रास्त है।

TOPPOPULARRECENT