उ कोरिया के खिलाफ पहला एक्शन लेने से अमेरिका कतराया, कहा पहला बम गिरने तक राजनयिक प्रयास रखेंगे जारी

उ कोरिया के खिलाफ पहला एक्शन लेने से अमेरिका कतराया, कहा पहला बम गिरने तक राजनयिक प्रयास रखेंगे जारी
Click for full image

वाशिंगटन : नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दोनों नेता एक दूसरे को धमकी दे रहे हैं. लेकिन अमेरिका पहला कदम लेने से कतरा रहा है. यही वजह है कि अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा है कि पहला बम गिरने तक हम उत्तर कोरिया के साथ राजनयिक प्रयास जारी रखेंगे.

हाल ही में व्हाइट हाउस में मीडिया से बात करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम पर उसके साथ बातचीत की संभावना को लेकर वह तैयार हैं. ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा, “हम देख रहे हैं कि उत्तर कोरिया के साथ क्या हो सकता है. मैं यही कह सकता हूं. हम हर तरह से तैयार हैं.”

इससे पहले ट्रंप ने ट्वीट कर टिलरसन की नॉर्थ कोरिया से बातचीत की कोशिश को ‘समय की बर्बादी’ बताया था. ट्रंप ने टिलरसन को ‘अपनी ऊर्जा बचाने’ की सलाह दी थी. ट्रंप ने ट्वीट किया था, ‘रेक्स लिटिल रॉकेट मैन के साथ बातचीत करने की कोशिश में अपना टाइम बर्बाद कर रहे हैं.’

इसी हफ्ते अमेरिकी B-1B बमवर्षक विमान और दक्षिण कोरियाई लड़ाकू विमान ने संयुक्त रूप से युद्धाभ्यास किया है. 16 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक जापान के सागर और पीला सागर में होने वाला ये अभ्यास, संचार, पारस्परिकता और साझेदारी को बढ़ावा देगा.

Top Stories