Saturday , July 21 2018

एंटी करप्‍शन यूनिट कर सकती है मोहम्मद शमी की जांच, लगा है विदेश से पैसा लेने का आरोप

क्रिकेटर मोहम्मद शमी को जल्द ही बड़ा झटका लग सकता है। सूत्रों के अनुसार, बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट जल्द ही मोहम्मद शमी मामले की जांच शुरु कर सकती है। बता दें कि मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने शमी पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया था। जिसके बाद बीसीसीआई की एडमिनिस्ट्रेटर कमेटी सीओए ने एंटी करप्शन यूनिट को हसीन जहां के आरोपों की जांच करने को कहा है। हसीन ने अपने आरोपों में कहा था कि शमी ने दुबई में पाकिस्तान की अलिस्बा नाम की लड़की से पैसे लिए थे, जिसमें इंग्लैंड के रहने वाले बिजनेसमैन मोहम्मद भाई भी शामिल हैं। हसीन जहां ने दावा किया कि उनके पास इस बात के सबूत भी मौजूद हैं। शमी को कटघरे में खड़ा करते हुए हसीन जहां ने कहा था कि शमी जब अपनी पत्नी को धोखा दे सकते हैं तो फिर वह देश को भी धोखा दे सकते हैं।

सीओए ने एंटी करप्शन यूनिट को निर्देश दिया है कि इस मामले में अगले 7 दिनों में रिपोर्ट सौंपी जाए। सूत्रों के अनुसार, एंटी करप्शन यूनिट इस बात की जांच करेगी कि मोहम्मद भाई और अलिस्बा कौन हैं? क्या सचमुच शमी ने इनसे पैसा लिया है? यदि पैसा लिया है तो इसका मकसद क्या है? बीसीसीआई ने साफ किया है कि अभी इन तीन मुद्दों की ही जांच की जाएगी। अन्य आरोपों के बारे में जब तक कोई जांच नहीं की जाएगी, जब तक यह मामला बीसीसीआई के सामने नहीं आ जाता।

 वहीं मोहम्मद शमी ने मैच फिक्सिंग के आरोपों से इंकार किया है। शमी का कहना है कि वो देश को धोखा देने से पहले मर जाना पसंद करेंगे। गौरतलब है कि बीसीसीआई ने शमी को अपने सालाना कॉन्ट्रैक्ट से भी बाहर कर दिया है। उल्लेखनीय है कि कोलकाता पुलिस ने भी मोहम्मद शमी के खिलाफ घरेलू उत्पीड़न के मामले में जमानती और गैर-जमानती धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। हाल ही में हसीन जहां ने बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से भी मदद की गुहार लगायी है। हसीन जहां का कहना है कि अब दोनों के बीच सुलह की कोई गुंजाइश नहीं है। हसीन जहां का कहना है कि उऩ्हें धमकियां मिल रही हैं, इसलिए हसीन जहां ने पुलिस सुरक्षा की मांग की है।

TOPPOPULARRECENT