Monday , September 24 2018

एक्सटेंशन देने से ED का इंकार, रोटोमैक कंपनीयों की होगी नीलामी

PNB महाघोटाले के बाद ईडी की टीम ने सख्त कार्रवाई की है। बैंकों ने दो रोटोमैक ग्रुप कंपनियों को डेट रीकास्ट प्रोग्राम में 90 दिनों का एक्सटेंशन देने से इनकार कर दिया। ये दोनों कंपनियों पर बैंकों का 4,000 करोड़ रुपए बकाया है।

बैंकरप्ट्सी कोर्ट बैंक धोखाधड़ी के आरोपी विक्रम कोठारी की कंपनियों, रोटोमैक एक्सपोट्र्स और रोटोमैक ग्लोबल की नीलामी करेगा।

बता दें कि एक सप्ताह पहले सी.बी.आई. ने रोटोमैक के मालिक विक्रम कोठारी और उसके बेटे राहुल कोठारी को कथित लोन डिफॉल्ट केस में गिरफ्तार किया गया था।

सीबीआई के अधिकारियों ने कहा कि विक्रम कोठारी और उसके बेटे को पूछताछ के लिए बुलाया गया था लेकिन जांच में सहयोग नहीं करने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, ऑरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, इलाहाबाद बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने मिलकर रोटोमैक ग्रुप की 2 कंपनियों को 4,000 करोड़ रुपए का कर्ज दिया था। पेन बनाने के अलावा रोटोमैक एक देश से दूसरे देश में सामानों का आयात-निर्यात करती है।

TOPPOPULARRECENT