Tuesday , January 23 2018

एक घंटे के फ़िज़ाई सफ़र के लिए 2,500 रुपये किराया मुक़र्रर करने की कोशिश

नई दिल्ली 04 मई: एक घंटे के फ़िज़ाई सफ़र के लिए किराया 2,500 रुपये मुक़र्रर करने की तजवीज़ पर ग़ौर किया जा रहा है। हुकूमत ने लोक सभा में ये बात बताई जबकि अरकान ने इस बात पर तशवीश का इज़हार किया था कि फ़िज़ाई किरायों में बेहंगम इज़ाफा किया जा रहा है।

हुकूमत ने कहा कि वो एयर लाइसेंस से मुशावरत करेगी ताकि हंगामी सूरते हाल में फ़िज़ाई टिक्टस की बे-तहाशा क़ीमत मुक़र्रर करने के मसले पर ग़ौर हो सके। वज़ीर शहरी हवाबाज़ी अशोक गजपति राजू ने वज़ारत शहरी हवाबाज़ी-ओ-सयाहत के मुतालिबात ज़र पर मबाहिस का जवाब देते हुए एवान में ये बात बताई।

एवान में अरकान ने हंगामी सूरते हाल में बे-तहाशा क़ीमतों पर तशवीश का इज़हार किया और कहा कि चेन्नाई और श्रीनगर में संगीन सेलाब और हालिया एहतेजाज के वाक़ियात के दौरान एयर लाइसेंस ने भारी किराए हासिल किए हैं। गजपति राजू ने कहा कि चेन्नाई सेलाब के दौरान एयर लाइसेंस ने यहां फंसे हुए लोगें को बंग्लूरू और हैदराबाद मुंतक़िल करने में हुकूमत की मदद की थी। उन्होंने कहा कि एयर लाइसेंस ने श्रीनगर में सेलाब के दौरान इज़ाफ़ी परवाज़ों का एहतेमाम किया। नेपाल में ज़लज़ले के वक़्त

  • और हरियाणा में जाट एहतेजाज के वक़्त भी एसा किया गया था।
  • TOPPOPULARRECENT