Saturday , November 18 2017
Home / Islami Duniya / एक मुस्लिम इंजिनियर जिसके बल पे खड़ा है अमेरिका

एक मुस्लिम इंजिनियर जिसके बल पे खड़ा है अमेरिका

अस्सलाम ओ आलेकुम
,

आज हम बात करेंगे एक ऐसे इंजिनियर की जिनका नाम फज़लुर रहमान ख़ान जो एक बंगलादेशी-अमेरिकी थे, उनकी पैदाइश ढाका में 3 अप्रैल 1929 को हुई. ऐसा कहा जाता है कि फज़लुर रहमान की ही देन जो आज अमेरिका में बड़ी बड़ी आसमान छूती इमारतें हैं. 20वीं शताब्दी के सबसे सम्मानित इंजिनियर में से एक रहमान को “ट्यूबलर डिज़ाइन का पिता” भी कहा जाता है. उन्होंने अमेरिका की दूसरी सबसे ऊंची इमारत विल्लिस टावर को डिजाईन किया है और इसके इलावा भी कई शानदार इमारतों का डिज़ाइन तय्यार किया है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

फज़लुर रहमान ने ऊंची इमारतों के लिए ट्यूब डिज़ाइन पे काम किया. जितनी भी इमारतें 40 से ज़्यादा मंजिला हैं लगभग सभी ख़ान के स्ट्रक्चरल ट्यूब डिज़ाइन पे बेस्ड हैं.

Sears_Tower_ss

फज़लुर रहमान ने जिन इमारतों को बनाया है उनमें शिकागो में डेविट-चेस्टनट अपार्टमेंट, ब्रुन्स्विक बिल्डिंग, जॉन हंकोक सेण्टर जैसी तमाम इमारतों का डिज़ाइन तय्यार किया.जेद्दाह में ख़ान अब्दुल अज़ीज़ यूनिवर्सिटी, किंग अब्दुल अज़ीज़ इंटरनेशनल एअरपोर्ट जैसी शानदार बिल्डिंगें डिज़ाइन की हैं.

800px-John_Hancock_Center2

1971 के बंगलादेशी आज़ादी की जंग में फज़लुर ने बांग्लादेश इमरजेंसी वेलफेयर अपील बनाया और बंगलादेशी आज़ादी के समर्थकों की शिकागो से मदद करने की कोशिश की.

27 मार्च 1982 को जेद्दाह, सऊदी अरब में उनका दिल का दौरा पड़ने से इन्तेक़ाल हो गया.

TOPPOPULARRECENT