एक वेबसाइट मिश्र में बच्चों का कर रहा था खरीद-फरोख्त, पूरे मिश्र में हलचल

एक वेबसाइट मिश्र में बच्चों का कर रहा था खरीद-फरोख्त, पूरे मिश्र में हलचल

काहिरा : एक वेबसाइट ग्राहकों को सभी उम्र के बच्चों को उनके त्वचा का रंग, स्वास्थ्य की स्थिति, आंख और बालों के रंग के आधार पर कीमत लगा कर मिश्र में बेची जा रही है। मिस्र के समाज में सनसनी फैल गयी है। वेबसाइट पर लिखा गया है की “बच्चों को गोद लेने या खरीदने में दिलचस्पी रखने वालों के लिए सभी उम्र की बिक्री करने के लिए हमारे पास बच्चे हैं”, जो कि नवजात शिशुओं और बच्चों को बेचने की पेशकश करता है जिनके जैविक माता-पिता अज्ञात हैं।

बच्चों की कीमत उनके लिंग, त्वचा का रंग, स्वास्थ्य की स्थिति, आंख और बालों के रंग के आधार पर कीमत भिन्न भिन्न होती है। एक कंप्यूटर साइंस इंजीनियर ने अल अरबिया को बताया कि वह लापता बच्चों की तलाश में फेसबुक पेज बनाने के बाद इस कुख्यात वेबसाइट की खोज की।

रामी अल-जेबाली ने कहा कि उनके पृष्ठ, जिसमें 1.2 मिलियन फ़्लोवर हैं, जो खो गए बच्चों के परिवारों को अपने लापता बच्चों की तस्वीरें पोस्ट करके माता-पिता की संपर्क करने की जानकारी में मदद करता है। जेबाली के फेसबुक पेज के कुछ अनुयायियों, जो अल शोरौक शहर में रहते हैं और कुछ काहिरा के पूर्वोत्तर के इलाके में, उन्हें एक संदिग्ध अपार्टमेंट के बारे में बताया था जो कई बच्चों को रख जाता था और हमेशा “कुछ परिवारों द्वारा अक्सर यहाँ आते थे जो बच्चों को यहाँ छोड़ जाते थे।

फ़्लोवर ने जेबाली को बताया कि आने वाले परिवारों ने फैंसी कारों से बच्चों को निकाल कर यहाँ दे देता और धन ले जाता। जेबाली ने कहा कि पड़ोसीयों ने बताया कि उन्होंने पुलिस को देखा, और यह पता चला कि अपार्टमेंट निवासियों में बच्चे के अपहर्ताओं थे जो बच्चों को बिक्री के लिए यहाँ रखते थे।

उस घटना के बाद जेबाली ने कहा, वह यह जानने में अधिक रुचि रखने लगे की ये बाल तस्कर ग्राहकों को कैसे खोजते हैं। शोध करके, जेबाली ने इस चौंकाने वाली वेबसाइट की खोज की जिससे बच्चे के तस्करों को अपने ग्राहकों को खोजने में मदद मिली। जिबाली ने कहा कि उन्होंने नीदरलैंड्स में रहने वाले एक अरब नागरिक को वेबसाइट का मालिक पाया।

वह यह पता लगाने में सक्षम था कि वेबसाइट के माध्यम से बच्चों को बेचने की प्रक्रिया कैसे की गई थी। उन्होंने कहा बाद में उन्होंने मिस्र के अटॉर्नी कार्यालय में मानव तस्करी विभाग के साथ अपने निष्कर्षों की जानकारी दी। अधिकारी अब जरूरी उपाय कर रहे हैं, ।

इस मामले में शामिल होनेवाले मिस्र के एक होस्ट की जांच हुई। एक अलग घटना में, मिस्र के अभियोजन ने मिस्र के बच्चों के अपहरण पर प्रसारित एक प्रकरण के बाद इस सप्ताह एक विवादास्पद मिश्री होस्टर और उसके कार्यक्रम के निदेशक को बुलाया। अभियोजन पक्ष ने कार्यक्रम के निर्माता और फोटोग्राफर को “कार्यक्रम के एक प्रकरण को तैयार करने के लिए दो बच्चों के अपहरण के आरोपों के मामले में 15 दिनों के लिए हिरासत में लिने का आदेश दिया है।

जांच के दौरान, प्रोग्राम निर्माता ने कहा कि उन्हें एक इस्लाम नामक युवक से संपर्क करने के लिए उनके संपादक ने सौंपा था, जो संभवतः “एक गिरोह है जो बच्चों को अपहरण करता है और उन्हें बिक्री के लिए वैबसाइट पर डालता है।” इस व्यक्ति के माध्यम से, निर्माता ने कहा, वह गिरोह के संपर्क में था, और “उन्हें बताया कि वह 300,000 मिस्र पाउंड के लिए दो बच्चों को खरीदना चाहती थी।”

निर्माता ने कहा कि जिस दिन वह गिरोह से मिलने जा रही थी, आंतरिक मंत्रालय के अधिकारियों को स्थान और समय के बारे में सूचित किया गया था, जिस पर अपहर्ताओं ने बच्चों को उसके हाथों में डालना था। पुलिस ने स्थान पर छापा मारा, बच्चों को मुक्त कर दिया और अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया।

लेकिन बाद में पता चला कि वह अपहर्ताओं के बदले में पैसे की पेशकश के बाद “उन बच्चों के अपहरण को उकसाने” का आरोप लगा रहे हैं। कार्यक्रम निर्माता और फोटोग्राफर जांच में लंबित है।

Top Stories