‘एग्जिट पोल से माहोल बनाकर ईवीएम में छेड़छाड़ कर बड़ा खेल खेला जा रहा है’

‘एग्जिट पोल से माहोल बनाकर ईवीएम में छेड़छाड़ कर बड़ा खेल खेला जा रहा है’

2019 लोकसभा चुनाव के परिणाम से पहले 19 मई को आए एग्जिट पोल ने सियासी सूबे में हलचल मचा दी. एग्जिट पोल के मुताबिक NDA की सरकार बनने के आसार हैं. वहीं विपक्षी दलों के नेता एग्जिट पोल के नतीजों को खारिज कर गलत बता रहे हैं.

वहीं आम आदमी पार्टी (AAP) के उम्मीदवार राघव चड्ढा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘Exit poll हमेशा से बीजेपी को ज्यादा आंकते हैं. 21 साल में जितनी भी एग्जिट पोल आए उन सब में भारतीय जनता पार्टी की विजय रही. लेकिन परिणाम कुछ और ही आते हैं. एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को हमेशा से कम आंका गया. एग्जिट पोल की विश्वसनीयता खत्म हो चुकी है.’

पैसे देकर एग्जिट पोल खरीदने के सवाल पर राघव चड्ढा ने कहा, ”Exit poll की आड़ में ईवीएम से छेड़छाड़ कर बड़ा खेल खेला जा रहा है. बात ये है कि एग्जिट पोल क्यों खरीदे जा रहे हैं. वो इसलिए कि पहले एग्जिट पोल में ये दिखाया जाए कि बीजेपी जीत रही है पूरे देश में और फिर बाद में जब नतीजे आएंगे तो कहा जाएगा कि हमने तो पहले ही कहा था. और इसी माहौल के अभाव में मशीनों के साथ छेड़खानी की जाती है. ऐसा करने के बाद कोई एग्जिट पोल की विश्वसनीयता पर सवाल नहीं उठा पाएगा.”

उन्होंने कहा, ‘पिछले ढाई 3 साल में जहां पर भी ईवीएम की छेड़खानी की रिपोर्ट आई है वहां पर लाभ बीजेपी को पहुंचा है. बटन कोई भी दबाओ वोट भाजपा को जाता है. यह जानबूझकर मशीन को इस तरीके से प्रोग्राम किया जाता है कि वोट भाजपा को ही जाए.’

Top Stories