Friday , December 15 2017

एटीएम मशीन में रक़म रखने के बहाने धोका दही

हैदराबाद 21 जून: एटीएम मशीन्स में रक़म रखने के बहाने करोड़ों रुपये की धोका दही में सामिल एक शातिर धोका बाज़ को सेंट्रल क्राईम स्टेशन (सी सी एस) पुलिस ने मुंबई में गिरफ़्तार कर लिया और उसे हैदराबाद मुंतक़िल कर दिया। डिप्टी कमिशनर आफ़ पुलिस डेक्टेक्टिवे डिपार्टमेंट अवीनाश मोहंती ने बताया कि एफ़ एस एस कंपनी जो स्टेट बैंक आफ़ इंडिया से मुआहिदे के तहत शहर के 116 एटी एम मशीन्स में रक़म रखने की ज़िम्मेदार है, ने आरसीआई कैश मैनेजमेंट कंपनी को रक़म रखने का कॉन्ट्रैक्ट दिया था जिसमें इस इदारे से ताल्लुक़ रखने वाले मुलाज़मीन ने 9.98 करोड़ का ग़बन किया था। सीसीएस पुलिस ने माह मई में इस केस में शामि छः मुल्ज़िमीन को गिरफ़्तार किया था जबकि इस धोका बाज़ी रैकेट के कलीदी मुल्ज़िम 49 साला सुदीप कुमार जो आर सी आई कैश मैनेजमेंट का डायरेक्टर है पुलिस के चंगुल से बाहर था।

सी सी उसकी स्पैशल टीम ने सुदीप कुमार को मुंबई से इस वक़्त गिरफ़्तार कर लिया जब वो पुलिस के धावे के दौरान दूसरी मंज़िल से छलांग लगाकर फ़रार होने की कोशिश कर रहा था सुदीप कुमार को टरांज़ट वरानट पर हैदराबाद को लाया गया है और उसे मुताल्लिक़ा अदालत में पेश किया जाएगा। मिस्टर मोहंती ने मज़ीद बताया कि इस केस के एक और मुल्ज़िम अरूणाचलम गिरी राजन को चन्नई से हैदराबाद लाया गया था और उसे भी अदालत में पेश कर दिया गया।

उन्होंने बताया कि पुलिस की इबतेदाई तहक़ीक़ात में ये मालूम हुआ है कि गिरफ़्तार मुल्ज़िमीन मुंबई में इसी किस्म की धोका दही के वाक़ियात में शामिल है पुलिस स्टेशनस में धोका दही के मुक़द्दमात दर्ज हैं और उन्हें साबिक़ में गिरफ़्तार किया गया था।

TOPPOPULARRECENT