Monday , January 22 2018

एटीएम लाइनों में मरे लोगों पर भाजपा नेता का बयान “लोग तो राशन की लाइन में भी मर सकते हैं”

भोपाल। नोटबंदी बदलने के लिए बैंकों के सामने लग रही लंबी क़तारों और दर्जनों की मौत के बाद भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्य प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्रबुद्धे ने असवेंदनशील बयान दिया है। जब उनसे क़तार में लगे लोगों में से कुछ के दम तोड़ने के बारे में सवाल किया गया तो सहस्रबुद्धे ने कहा, “लोग राशन की लाइन में भी मर सकते हैं.”

इसके फौरन बाद उन्होंने कहा कि इसे ठीक करने की कोशिश की जाएगी, ताकि ऐसी घटना न हो। मध्य प्रदेश के सागर में शनिवार को एक रिटायर्ड कर्मचारी की मौत बैंक की लाइन में नोट बदलवाने के दौरान हो गई थी।
इसके अलावा बिहार, गुजरात और महाराष्ट्र समेत देश के अन्य इलाक़ों से भी इस तरह की ख़बरें आई हैं।

बीबीसी की खबर के मुताबिक उन्होंने कहा कि कालेधन के खिलाफ संघर्ष चल रहा है। जनता सत्याग्रही के रूप में थोड़ा कष्ट सहना चाहिए। ये केवल एक कानूनन निर्णय नहीं, जन आंदोलन है। उन्होंने कहा कि लोग बहुत हड़बड़ी में काम कर रहे हैं, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि अभी बहुत समय है सब आराम से अपना काम करवाए।

TOPPOPULARRECENT