एनआइए का अलर्ट भाग सकते हैं दहशतगर्द

एनआइए का अलर्ट भाग सकते हैं दहशतगर्द
पटना बम धमाके के मास्टर माइंड तहसीन अख्तर उर्फ मोनू , हैदर अली उर्फ अब्दुल्लाह के साथ दीगर दहशतगर्दों के बिहार के सरहदी इलाक़े के जिले में छिपे होने की जानकारी एनआइए को मिली है। एनआइए ने बिहार पुलिस को दहशतगर्दों पर नजर रखने के लिए

पटना बम धमाके के मास्टर माइंड तहसीन अख्तर उर्फ मोनू , हैदर अली उर्फ अब्दुल्लाह के साथ दीगर दहशतगर्दों के बिहार के सरहदी इलाक़े के जिले में छिपे होने की जानकारी एनआइए को मिली है। एनआइए ने बिहार पुलिस को दहशतगर्दों पर नजर रखने के लिए अलर्ट जारी किया है।

एनआइए का कहना है कि मोतिहारी, किशनगंज, कटिहार, अररिया, पूर्णिया, मधुबनी वगैरह जिलों के रास्ते दहशतगर्द नेपाल भाग सकते हैं। अलर्ट के बाद बिहार पुलिस के आला अफसरों ने सरहदी जिलों के एसपी और थानों को दहशतगर्दों पर नजर रखने के लिए कहा है। वहीं दहशतगर्दों की तलाश में इतवार को एनआइए की टीम ने मुंबई, दिल्ली समेत मुल्क भर के 13 ठिकानों पर ऑपरेशन भी चलाया। हालांकि, कोई दहशतगर्द टीम के हाथ नहीं लगा।

सरहदी इलाके आइएम के दहशतगर्दों के छिपने के पुराने ठिकाने रहे हैं। यासीन भटकल उर्फ मोहम्मद अहमद सिदीवपा मोतिहारी में ही काफी वक़्त से छिपा था, जिसे एनआइए ने इसी साल आठ अगस्त को मोतिहारी से गिरफ्तार किया था। वहीं गांधी मैदान की रेकी करनेवाले ताबिश नेयाज उर्फ अरशद को भी पटना पुलिस ने मोतिहारी से ही गिरफ्तार किया था।

फिलहाल वह बेऊर जेल में है। इम्तियाज की रिमांड पीर को खत्म हो जायेगी। उसके बाद उसे जेल भेज दिया जायेगा। अब एनआइए ताबिश को भी रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है।

Top Stories