Tuesday , December 12 2017

एनआइए ने की छह से पूछताछ, बम की तलाश जारी

पटना और बोधगया धमाके की जांच के दौरान एनआइए की टीम ने पीर को यहां छह लोगों से पूछताछ की। इनमें चार सीठियो के और दो शहर के हैं। इसके अलावा टीम ने सीठियो गांव से सटे रिंग रोड के आसपास बम की तलाश भी की। उसे कुछ मिला या नहीं, इस बारे में को

पटना और बोधगया धमाके की जांच के दौरान एनआइए की टीम ने पीर को यहां छह लोगों से पूछताछ की। इनमें चार सीठियो के और दो शहर के हैं। इसके अलावा टीम ने सीठियो गांव से सटे रिंग रोड के आसपास बम की तलाश भी की। उसे कुछ मिला या नहीं, इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है। ज़राये के मुताबिक एनआइए की टीम ने जिन लोगों से पूछताछ की, उनका मुश्तबा से कुछ न कुछ रिश्ता रहा है।

एनआइए को पक्की इत्तिला है कि मुल्क के दूसरों शहरों में धमाके के बाद जख्मी मुश्तबा का इलाज रांची में हुआ। इस मामले में भी एक डॉक्टर की तलाश है। एनआइए ने पीर को हैदर, मुजबिुल्लाह, फिरोज असलम और इस्तेखार के सामने ही सभी से पूछताछ की। पूछताछ करनेवालों में एनआइए के एसपी विकास वैभव और अनुराग कुमार शामिल थे। पूछताछ के बाद एनआइए की टीम सीठियो और रिंग रोड से सटी पहाडियों पर मुश्तबा को लेकर पहुंची और देर शाम तक बम की खोज करती रही।

सिमी से जुड़ा है फिरोज

कर्बला चौक के रहने वाले फिरोज असलम के पास से एक टाइमर, डेटोनेटर और धमाके खेज आलात मिला था। यह मुजिबुल्ला अंसारी का नजदीकी है। वह सिमी से भी जुड़ा है। मध्यप्रदेश के डॉ अबू फजल से भी उसके रिश्ते हैं।

एनआइए का दावा

एनआइए का दावा है कि सीठियो में बरामद बमों का इस्तेमाल धमाका में किया जाना था। इस्तेखार से इस सिलसिले में पूछताछ की जा रही है। रांची के एक नामी अस्पताल के डॉक्टर की भी तलाश है, जो हैदर का नजदीकी बताया जाता है।

TOPPOPULARRECENT