Monday , January 22 2018

एनआईए द्वारा पकड़े गए युवकों के परिजनों का बयान: ओवैसी और बीजेपी खेल रही वोट बैंक पॉलिटिक्स”

तेलंगना: हैदराबाद में बीते दिनों आतंकियों के ताल्लुक रखने का इलज़ाम लगाकर हिरासत में लिए गए युवकों को परिवारों ने इस सारे प्रकरण को एक खेल का नाम दिया है। एनआईए की तरफ से पकड़े गए युवकों में से २ युवक इब्राहिम यजदानी और इल्यास यजदानी जोकि एक ही परिवार से हैं के परिजनों का कहना है कि उन्हें एनआईए की तरफ से बार बार परेशान किया जा रहा है और इस सब के पीछे मीम और बीजेपी का हाथ है जो ऐसा वोटबैंक के लिए कर रहे हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करियेj

यजदानी परिवार का कहना है कि मीम जोकि पिछले इलेक्शंस में हैदराबाद में करारी हार का मुँह देख चुकी है और अंदर ही अंदर बीजेपी के आगे बिक चुकी है हैदराबाद के लोगों को झूठे मामलों में फंसा कर तांग करना चाहती है।

परिवार का कहना है कि मामला दर्ज भी इन्हीं के इशारे पर होता है इन मामलों में पकडे गए आरोपियों को कानूनी मदद देने का बयान देकर बीजेपी की ही सहयोगी पार्टी मीम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी खुद को लोगों के सच्चे हमदर्द के तौर पर खुद को प्रोजेक्ट करते हैं। ताकि आने वाली वोटों में अपनी वोटें पक्की कर सकें।

यजदानी परिवार जिसने राज्य मानवाधिकार कमीशन के सामने एनआईए के खिलाफ 1 करोड़ का मानहानि का दावा ठोंका है का मानना है कि देश की राजनीति में आने वाले सालों में भी बने रहने के लिए मुस्लिमों को बलि का बकरा बनाया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि सलाफी मुस्लिम होने की वजह से उनके परिवार को तंग किया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT