Sunday , November 19 2017
Home / India / एनआईटी विवाद : देश के दूसरे हिस्सों से आये छात्रों का ‘अतिथि देवो भव’ की तर्ज पर किया जाए स्वागत, महबूबा मुफ़्ती

एनआईटी विवाद : देश के दूसरे हिस्सों से आये छात्रों का ‘अतिथि देवो भव’ की तर्ज पर किया जाए स्वागत, महबूबा मुफ़्ती

कटरा \ जम्मू-कश्मीर: जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार को हाल ही में श्रीनगर के नेशनल इंस्टीट्यूट आफ़ टेक्नोलॉजी(एनआईटी) में हुए विवाद की आलोचना को मद्देनज़र रखते हुए राज्य के लोगों से आग्रह किया कि वह ‘अतिथि देवो भव’ की परंम्परा को निभाते हुए बाहर से पढने आये छात्रों के साथ भाईचारे और सौहार्दपूर्ण संबंध बना कर रखें |

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

“मुफ्ती ने कहा कि जब कटरा में श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि ये छात्र यहाँ मेहमान के रूप में आते हैं हमें इनके साथ अच्छा व्यवहार करना चहिये और “हम देश के विभिन्न हिस्से से यहाँ आने वाले छात्रों का ‘अतिथि देवो भव’ की तर्ज पर स्वागत करते हैं।
उन्होंने कहा कि मेरा सभी से अनुरोध है कि हमें इन छात्रों के साथ एक मेज़बान के तौर पर बहुत अच्छे से पेश आना चाहिए जिससे कि जब ये वापस जाएँ तो हमारे अच्छे व्यवहार के बारे में बात करें और हमारे राज्य के जो बहुत से बच्चे देश के विभिन्न हिस्सों में पढ़ रहे हैं उनके साथ भी अच्छा व्यवहार किया जाए |इस तरह से आपस में भाईचारे और मोहब्बत को बढ़ावा दिया जाएगा| समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित थे |
श्रीनगर के नेशनल इंस्टीट्यूट आफ़ टेक्नोलॉजी(एनआईटी)के छात्र एनआईटी में हुए विवाद में मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) के रवैये के खिलाफ बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन करेंगें |
टी -20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद राज्य में स्थानीय और बाहरी छात्रों के बीच हुई झड़प के बाद 2,000 गैर-कश्मीरी छात्रों ने बड़े पैमाने पर एनआईटी से पलायन कर गये हैं |
ये स्थिति पिछले हफ़्ते उस वक़्त और बिगड़ गयी जब राज्य के बाहरी छात्रों ने कैम्पस के बाहर एक मार्च निकालने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने लाठीचार्ज कर इन छात्रों को रोक दिया

TOPPOPULARRECENT