Wednesday , December 13 2017

एनएच 75 पर धमाका बचे डीएसपी और दारोगा

एनएच-75 पर पीर की दोपहर 2.35 बजे हुरहुरी घाटी में नक्सली तंजीम भाकपा माओवादी ने बारूदी सुरंग धमाका कर पुलिस गश्ती दल को निशाना बनाया। मनिका-सतबरवा की सरहद पर हुई इस वाकिया में डीएसपी और दारोगा समेत 11 पुलिस अहलकार बाल-बाल बचे।

एनएच-75 पर पीर की दोपहर 2.35 बजे हुरहुरी घाटी में नक्सली तंजीम भाकपा माओवादी ने बारूदी सुरंग धमाका कर पुलिस गश्ती दल को निशाना बनाया। मनिका-सतबरवा की सरहद पर हुई इस वाकिया में डीएसपी और दारोगा समेत 11 पुलिस अहलकार बाल-बाल बचे।

धमाका के कुछ मिनट पहले ही पुलिस गाड़ी वहां से गुजर गया था। बरवाडीह के डीएसपी अनूप कुमार बड़ाइक एक मामले का तहक़ीक़ात करने मनिका थाना आये थे। स्कॉरपियो गाड़ी से बरवाडीह लौट रहे थे। मनिका थाना इंचार्ज मिथिलेश कुमार सिंह भी साथ थे। मनिका थाना की पुलिस जीप उन्हें स्कॉट कर रही थी। इस पर एसआइ राजेंद्र महतो और जारुका जारिका समेत कुल नौ पुलिस अहलकार सवार थे।

पुलिस गाड़ी जल्दी से आगे बढ़ गये :

जानकारी के मुताबिक , एसडीपीओ मिस्टर बड़ाइक एक पुराने मामले की तहकीकात के सिलसिले में सतबरवा थाना इलाक़े के बकोरिया गांव जा रहे थे। हुरहुर पहाड़ी के पास पुलिस टीम जैसे ही हुरहुरी घाटी पहुंची, सड़क पर जोरदार धमाका हुआ। लेकिन इत्तिफ़ाक़ से पुलिस की जीप कुछ ही सेकेंड पहले वहां से निकल चुकी थी।

धमाके के बाद धूल पुलिस गाड़ी तक पहुंच रहे थे। पुलिस गाड़ी बिना वक़्त गंवाये आगे की तरफ बढ़ गयी। इसके चलते कोई नुकसान नहीं हुई।

ज़ाए हादसा से मिला तार :

वाकिया की जानकारी मिलने के बाद पलामू इलाक़े के डीआइजी रविकांत धान ज़ाए हादसा पर पहुंचे। देखा कि सड़क किनारे जंगल महकमा की तरफ से ट्रेंच खोदा गया है, वहां पर तार मिला है। धमाका में केन बम का इस्तेमाल किया गया।

बताया जाता है कि हाल के दिनों में सतबरवा और मनिका इलाके में नक्सली रौशन जी का काफिला सरगर्म है। उसके खिलाफ पुलिस के दबिश बढ़ी है, इसलिए माओवादियों ने यह धमाका किया है। मालूम हो कि यह वाकिया ऐसे वक़्त हुई है, जब भाकपा माओवादी ‘पीपल्स लिबरेशन ऑफ गुरिल्ला आर्मी सप्ताह’ मना रहा है।

धमाके के बाद माओवादियों से तसादम

हुरहुरी पहाड़ी के पास धमाके के बाद पुलिस और माओवादियों के दरमियान तसादम शुरू हो गयी है। शाम तकरीबन चार बजे से दोनों तरफ से रुक-रुक कर फायरिंग हो रही है। धमाके के बाद डीआइजी रविकांत धान, पलामू के एसपी नरेंद्र कुमार सिंह की कियादत में सर्च मुहिम चलाया जा रहा था। इसी दौरान पहाड़ी पर जमे माओवादियों ने पुलिस पर गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस ने भी कार्रवाई शुरू कर दी।

TOPPOPULARRECENT