Saturday , June 23 2018

एनकाउंटर की सी बी आई तहक़ीक़ात का मुतालिबा

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में 7 अप्रैल को पुलिस की तरफ से एनकाउंटर के नाम पर 25 अफ़राद को मौत के घाट उतार देना गै़रक़ानूनी हरकत है। पॉपुलर फ्रंट आफ़ इंडिया के रियासती सदर अबदुल हद ने ये बात कही। उन्होंने हुकूमतों से मुतालिबा किया कि स

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में 7 अप्रैल को पुलिस की तरफ से एनकाउंटर के नाम पर 25 अफ़राद को मौत के घाट उतार देना गै़रक़ानूनी हरकत है। पॉपुलर फ्रंट आफ़ इंडिया के रियासती सदर अबदुल हद ने ये बात कही। उन्होंने हुकूमतों से मुतालिबा किया कि सी बी आई या जोडीशील इन्क्वारी करवाई जाये।

उन्होंने एक वफ़द की शक्ल में सब कलेक्टर जगत्याल डी कृष्णा भास्कर से मुलाक़ात करते हुए एक तहरीरी याददाश्त हवाले की और सब कलेक्टर से कहा कि 7 अप्रैल को वर्ंगल ज़िला नलगेंडा आलेर में 5 मुस्लिम नौजवानों को और तिरूपति ज़िला के चँवर इलाके सयाशा मालाम तीन मुतफ़र्रिक़ मुक़ामात पर एनकाउंटर से साफ़ ज़ाहिर होरहा हैके ये महिकमा पुलिस की तरफ से मंसूबे के तहत है और ये एकतरफा है। इस मौके पर उनके हमराह जगत्याल पॉपुलर फ्रंट सदर शुजाउद्दीन , अबदुलसुबहान, सेक्रेटरी के अलावा दुसरे मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT