एनकाउंटर से डरा माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी, कोर्ट में अर्जी देकर सुरक्षा की गुहार लगाई

एनकाउंटर से डरा माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी, कोर्ट में अर्जी देकर सुरक्षा की गुहार लगाई
Click for full image

यूपी के झांसी की जेल में बंद माफिया डॉन प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी ने वाराणसी एडीजे 4 की कोर्ट में अर्जी देकर सुरक्षा की गुहार लगाई है. डॉन मुन्ना बजरंगी को ऐसा आशंका हैं कि पेशी के दौरान उसका एनकांउटर हो सकता है. कोर्ट में दिए प्रार्थना पत्र में डॉन ने कहा, एसटीएफ जेल में बंदियों के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रच रही है. इस मामले में कोर्ट ने आईजी जेल से इस मामले में रिपोर्ट तलब किया है. कोर्ट इस मामले की अगली सुनवाई 23 मई को करेगी. बता दें कि मुन्ना बजरंगी साल 2009 से जेल में बंद हैं.

मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह है. उसका जन्म 1967 में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में हुआ था. उसके पिता पारसनाथ सिंह उसे पढ़ा लिखाकर बड़ा आदमी बनाने का सपना संजोए थे. मगर प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी ने उनके अरमानों को कुचल दिया. उसने पांचवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी. किशोर अवस्था तक आते आते उसे कई ऐसे शौक लग गए जो उसे जुर्म की दुनिया में ले जाने के लिए काफी थे.

मुन्ना को हथियार रखने का बड़ा शौक था. वह फिल्मों की तरह एक बड़ा गैंगेस्टर बनना चाहता था. यही वजह थी कि 17 साल की नाबालिग उम्र में ही उसके खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया. जौनपुर के सुरेही थाना में उसके खिलाफ मारपीट और अवैध असलहा रखने का मामला दर्ज किया गया था. इसके बाद उसने कभी पलटकर नहीं देखा

Top Stories