एनडीटीवी के पत्रकार का आरोप, चैनल ने वेबसाइट से जय शाह की रिपोर्ट हटाई

एनडीटीवी के पत्रकार का आरोप, चैनल ने वेबसाइट से जय शाह की रिपोर्ट हटाई
Click for full image

निष्पक्ष पत्रकारिता क लिए अगर हम बात करे तो सबसे पहले एनडीटीवी का नाम आता है| लेकिन अब लगता है कि वो भी गोदी मीडिया का शिकार होने लगी है| क्योंकि कुछ दिनों पहले ऐसी खबर आयी थी कि एनडीटीवी  को स्पाइसजेट के संस्थापक अजय सिंह ने खरीद लिया है। हालांकि चैनल ने उस खबर का खंडन किया था| लेकिन अब उसका असर दिखने लगा है एनडीटीवी के पत्रकार श्रीनिवासन जैन ने फेसबुक पर अपने ही चैनल के खिलाफ खुलासा किया है।

उन्होंने कहा कि कुछ दिनों पहले अमित शाह के बेटे को दिए जाने वाले बैंक लोन पर एक रिपोर्ट तैयार किया था लेकिन चैनल प्रबंधन ने उनकी रिपोर्ट को वेबसाइट से हटा दिया। जैन के अनुसार उन्होंने यह रिपोर्ट अपने सहयोगी मानस प्रताप के साथ मिलकर तैयार किया था जो की तथ्यों पर आधारित थीं| हालाँकि एनडीटीवी के वकीलों ने ये कह के टाल दिया कि ऐसा क़ानूनी पक्षों की जांच के लिए किया गया है। जैन का कहना है कि मेरी इस शिकायत के बाद भी उस रिपोर्ट को अब तक वापस वेबसाइट पर नहीं डाला गया। ये मेरे लिए बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है|

जैन ने आगे लिखा कि इस तरह की घटना पत्रकारों को कभी कभी मिलती हैं| उस पर तथ्यों के साथ काम करते हैं, ऐसे मौके बार बार नहीं आते हैं पत्रकारिता के क्षेत्र में|  हमने निष्पक्ष रूप से इस पर काम  किया था अच्छे से रिपोर्ट तैयार की थी इसलिए हमें इतनी तकलीफ हो रही है और ये कहना पड़ रहा है| हालाँकि उन्होंने कहा है कि फिलहाल वो एनडीटीवी के साथ ही पत्रकारिता करते रहेंगे।

 

कुछ दिनों पहले न्यूज वेबसाइट  ‘द वायर’  ने एक रिपोर्ट में दावा किया था कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी का सालाना टर्नओवर पिछले 2,3 साल में 16,000 गुना बढ़ गयी है|  वेबसाइट के मुताबिक, यह खुलासा रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) में दाखिल किए गए दस्तावेजों से सामने आई है।

 

शरीफ़ उल्लाह

Top Stories