Wednesday , January 17 2018

एन जी ओज़ का हैदराबाद में जल्सा , एन टी आर ट्रस्ट भवन में मुलाज़मीन का क़ियाम

तेलुगु देशम पार्टी की जानिब से सीमा - आंध्र मुलाज़मीन को एन टी आर ट्रस्ट भवन में क़ियाम और ताअम की सहूलत फ़राहम किए जाने के सबब तेलंगाना तेलुगु देशम क़ाइदीन में शदीद ब्रहमी पाई जाती है।

तेलुगु देशम पार्टी की जानिब से सीमा – आंध्र मुलाज़मीन को एन टी आर ट्रस्ट भवन में क़ियाम और ताअम की सहूलत फ़राहम किए जाने के सबब तेलंगाना तेलुगु देशम क़ाइदीन में शदीद ब्रहमी पाई जाती है।

7 सितंबर को लाल बहादुर स्टेडीयम में मुनाक़िदा सीमा – आंध्र मुलाज़मीन के जल्से आम में शिरकत के लिए हैदराबाद पहूंचने वाले सीमा – आंध्र मुलाज़मीन को एन टी आर ट्रस्ट भवन में क़ियाम और ताअम की सहूलतें फ़राहम की गईं जिस पर टी आर एस और दीगर तेलंगाना हामी तंज़ीमों के ज़िम्मेदारान तेलुगु देशम को सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाया, लेकिन गुज़िश्ता दो दिन से बैरूनी तन्क़ीदों का सामना कर रही तेलुगु देशम पार्टी को आज अंदरून पार्टी एतराज़ात का जवाब देना पड़ रहा है।

गुज़िश्ता दो यौम से तेलंगाना तेलुगु देशम क़ाइदीन जो कि पहले ही से नायडू की आत्मा गुरू बस यात्रा पर ब्रहम हैं, उन पर सीमा – आंध्र मुलाज़मीन के लिए फ़राहम कर्दा सहूलतें जले पर नमक डालने के मुतरादिफ़ साबित हो रही हैं।

बावसूक़ ज़राए से मौसूला इत्तिलाआत के बामूजिब रियासत की तक़सीम के मुताल्लिक़ तेलुगु देशम पार्टी ने 2008 में जो मौक़िफ़ इख़्तियार किया था, उस से दस्तबरदारी का कोई मंसूबा नहीं है।

TOPPOPULARRECENT