Sunday , December 17 2017

एन डी ए इत्तिहाद मुस्तहकम : नीतीश कुमार

पटना, 27 अप्रैल: वज़ीरे आला बिहार नीतीश कुमार जो जे डी (यू) और बी जे पी के बीच मेलजोल‌ और ताल्लुक़ात के बिगड़ जाने की क़ियास आराईयों को बिलकुल ख़त्म करदेना चाहते हैं। उन्होंने आज एक अहम बयान देते हुए कहा कि दोनों पार्टियों में इत्तिहाद

पटना, 27 अप्रैल: वज़ीरे आला बिहार नीतीश कुमार जो जे डी (यू) और बी जे पी के बीच मेलजोल‌ और ताल्लुक़ात के बिगड़ जाने की क़ियास आराईयों को बिलकुल ख़त्म करदेना चाहते हैं। उन्होंने आज एक अहम बयान देते हुए कहा कि दोनों पार्टियों में इत्तिहाद बरक़रार है और मुस्तक़बिल में भी बरक़रार रहेगा। जे डी (यू) के दो और बी जे पी के एक उम्मीदवार के पर्चे नामज़दगी के दाख़िल करने के बाद मीडिया नुमाइंदों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि हम इंतिहाई हम आहंगी और बाहमी रवाबित के मुताबिक़ काम करते हैं।

उस वक़्त उन के साथ नायब वज़ीरे आला सुशील कुमार मोदी भी मौजूद थे। अपनी बात जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि कौंसल इंतिख़ाबात में शराकत दारों के साथ नशिस्तों की तक़सीम के मुआहिदा ने हमारी मुफ़ाहमत को मज़ीद मुस्तहकम किया है और मुस्तक़बिल में भी बिहार के अवाम की फ़लाह-ओ-बहबूद के लिए एक साथ काम करेंगे।

यहां इस बयान को एहमियत का हामिल इस लिए समझा जा रहा है कि हालिया दिनों में ये ख़बरें गश्त कर रही थीं कि जे डी ( यू) और बी जे पी के बीच‌ सयासी मुफ़ाहमत ख़तरे में पड़ गई है हालाँकि ये दोनों जमातें एक अर्से से एन डी ए की हलीफ़ जमातें रह चुकी हैं। नरेंद्र मोदी को बी जे पी के वज़ीरे आज़म के ओहदे का उम्मीदवार बनाकर पेश किया जा रहा था जिसे मुबय्यना तौर पर जे डी यू के कुछ अरकान ने पसंद नहीं किया था।

अब बिहार में सयासी मंज़र नामा इंतिहाई गर्मा चुका है जहां बी जे पी क़ाइदीन बिशमोल‌ नायब वज़ीरे आला जे डी (यू) के ख़िलाफ़ ज़बरदस्त एहतिजाज कर रहे हैं। जे डी (यू) से साबिक़ वज़ीर मंज़र आलम और राज किशवर सिंह कुशवाहा ने पर्चा नामज़दगी का दाख़िल‌ किया है वहीं विवेक ठाकुर ने बी जे पी की जानिब से पर्चा नामज़दगी दाख़िल किया है।

TOPPOPULARRECENT