एपी मुलाज़िमीन की मुंतकली का अमल तेज़-रफ़्तार

एपी मुलाज़िमीन की मुंतकली का अमल तेज़-रफ़्तार
Click for full image

हैदराबाद 27 जून: आंध्र प्रदेश की तरफ से अमरावती में नए दारुल हुकूमत की तामीर के दौरान हुकूमत के मुलाज़िमीन की मुशतर्का दारु‍ल हुकूमत से विजयवाड़ा को मुंतकली का अमल तेज़ी के साथ जारी है। रियासती हुकूमत के मुशीर (मुवासलात) प्रकाला प्रभाकर ने कहा कि हमारी तारीख़ 27 जून से शुरू होती है। हम अपने मुलाज़िमीन की मुंतकली का अमल तेज़ कर रहे हैं।

पहले ही कई मुलाज़िमीन विजयवाड़ा अमरावती और गुंटूर मुंतक़िल हो गए हैं। हमारी इत्तेलाआत ये हैं कि महिकमा इत्तेलाआत-ओ-तालुकात-ए-आमा मुंतक़िल हो चुका है महिकमा कल्चर ज़राअत सिविल स्पलाईज़ मुंतक़िल हो चुके हैं। महकमा-ए-सेहत-ओ-तबाबत का बड़ा हिस्सा मुंतक़िल हो चुका है। बड़ी तेज़ी से ये अमल जारी है। उन्होंने कहा कि 27 जून से ये अमल और भी तेज़ हो जाएगा।

तक़सीम रियासत के बाद जून 2014 से आंध्र प्रदेश को दस साल तक हैदराबाद को मुशतर्का राजधानी के तौर पर इस्तेमाल करने का मौक़ा है। दस बरस के बाद हैदराबाद सिर्फ़ तेलंगाना का हिस्सा रह जाएगा। वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुस्तक़िल दारुल हुकूमत शहर अमरावती का संग-ए-बुनियाद दरयाए कृष्णा के किनारे पिछ्ले साल विजयवाड़ा में रखा है।

हुकूमत आंध्र प्रदेश का कहना है कि इंतेज़ामी मर्कज़ को रियासत के जग़राफ़ियाई महल वक़ूअ से क़रीब होना चाहीए। एसे में विजयवाड़ा के क़रीब एक आरिज़ी सरकारी काम्प्लेक्स तामीर किया जा रहा है। इस की तामीर का काम एल ऐंड टी और दूसरी इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनीयों को दिया गया है और ये काम भी तेज़ी से जारी है।

Top Stories