Sunday , December 17 2017

एमएल सी मोहन रेड्डी पर इस टी यू के इल्ज़ामात बे बुनियाद

करीमनगर,16 जनवरी: ( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) मुदर्रिसीन की मुसलसल ख़िदमात की अंजाम दही में मसरूफ़ एमएल सी मोहन रेड्डी पर इस टी यू क़ाइदीन के झूटे इल्ज़ामात और बिलावजह तन्क़ीद सही तर्ज़े अमल नहीं है। इन ख़्यालात का इज़हार पी आर टी यू ज़ि

करीमनगर,16 जनवरी: ( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) मुदर्रिसीन की मुसलसल ख़िदमात की अंजाम दही में मसरूफ़ एमएल सी मोहन रेड्डी पर इस टी यू क़ाइदीन के झूटे इल्ज़ामात और बिलावजह तन्क़ीद सही तर्ज़े अमल नहीं है। इन ख़्यालात का इज़हार पी आर टी यू ज़िला सदर जय महेंद्र रेड्डी, सेक्योरिटी नरहरि लकशमा रेड्डी ने किया। उन्होंने कहा कि पंचायत राज के तहत बरसर ख़िदमत टीचर्स पर इस टी यू सौतेला रवैय्या इख़तियार कर रहे हैं।

ऐसे में 1971 में पी आर टी यू की तशकील की गई। मोहन रेड्डी की क़ियादत में हुकूमत से बात चीत‌ और जद्द-ओ-जहद के ज़रीये नुमाइंदगी के सबब ही आज पंचायत राज के तहत बरसर ख़िदमत टीचर्स हुकूमत के तहत काम कर रहे हैं और दीगर टीचर्स के बराबर तरक़्क़ी करते हुए तमाम तर सहूलतें हासिल कर रहे हैं।

9 वीं पी आर सी में मोहन रेड्डी का कलीदी रोल रहा है। जी ओ एम इस नंबर 40.010 के तहत तनख़्वाहें, ख़ातून मुदर्रिसीन को ज़ाइद 5 सी एलिस 180 दिन ज़चगी की रुख़स्त की सहूलत वगैरह दिए जा रहे हैं। टीचरों को दरपेश मसाइल की यकसूई और तालीमी सहूलतों की फ़राहमी के लिए मोहन रेड्डी मुसलसल कोशिश कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT