Saturday , November 18 2017
Home / Mumbai / एम एन एस पर उद्धव ठाकरे की बी जे पी से वज़ाहत तलबी

एम एन एस पर उद्धव ठाकरे की बी जे पी से वज़ाहत तलबी

शिवसेना सरबराह उद्धव ठाकरे ने आज जारिहाना मुज़ाहरा करते हुए बी जे पी से मांग‌ किया कि वो राज ठाकरे की क़ियादत वाली एम एन एस से मुताल्लिक़ अपने मौक़िफ़ की वज़ाहत करे। अपने चचरे भाई राज ठाकरे का नाम लिए बगै़र उन्होंने बी जे पी से वज़ाहत तल

शिवसेना सरबराह उद्धव ठाकरे ने आज जारिहाना मुज़ाहरा करते हुए बी जे पी से मांग‌ किया कि वो राज ठाकरे की क़ियादत वाली एम एन एस से मुताल्लिक़ अपने मौक़िफ़ की वज़ाहत करे। अपने चचरे भाई राज ठाकरे का नाम लिए बगै़र उन्होंने बी जे पी से वज़ाहत तलब की और ये भी कहा कि कुछ लोग हसूल-ए-इक्तदार के लिए कुछ भी करसकते हैं।

हाल ही में बी जे पी के साबिक़ सदर नतन गडकरी ने राज ठाकरे से मुलाक़ात की थी। इसी पस-ए-मंज़र में उद्धव ठाकरे ने कहा कि बी जे पी पहले ये वाज़िह करे कि महाराष्ट्र में बी जे पी को अपने फ़ैसले ख़ुद करने का इख़तियार किस ने दिया। पार्टी के लोक सभा उम्मीदवारों और दीगर दफ़्तरी अरकान से मुलाक़ात के बाद शिवसेना हेडक्वार्टर सेना भवन में उद्धव अख़बारी नुमाइंदों से बात कररहे थे।

उन्होंने कहा कि शिवसेना के गोपी नाथ मुंडे और उनकी टीम से भी अच्छे रवाबित हैं लेकिन ऐसा महसूस होता है कि कुछ लोग सेहरा अपने सर बांधने के लिए बीच‌ में कूद पड़े हैं। उन्होंने बी जे पी से ये वज़ाहत भी तलब की कि वो ये बताए कि क्या पार्टी अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी की तरह हुकूमत तश्कील देने किसी दीगर पार्टी के साथ इत्तिहाद करसकती है?

उन्होंने इस सिलसिला में केजरीवाल के इलावा साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म चन्द्र शेखर का भी हवाला दिया जिन्होंने राजीव गांधी की ताईद हासिल की थी। क्या बी जे पी कांग्रेस से इत्तिहाद करने भी तैयार है? ये दो सवालात हैं जो उद्धव ठाकरे ने बी जे पी से किए। ताहम ख़ुद ही इस का जवाब देते हुए कहा कि अगर बी जे पी कांग्रेस के साथ भी सियासी मुफ़ाहमत करसकती है तो फिर केजरीवाल और हमारे बीच‌ क्या फ़र्क़ है?

हम ने (शिवसेना-बी जे पी) एक दूसरे से सियासी इत्तिहाद हिंदूतवा के नाम पर किया था और हम इन के साथ उस वक़्त भी थे जब वो बोहरान का शिकार थे लेकिन अब हालात में कुछ बेहतरी पैदा होरही है।

TOPPOPULARRECENT