Friday , December 15 2017

एयरलाईंस की मुश्किलात पर वज़ीर-ए-आज़म – वज़ीर शहरी हवाबाज़ी की बातचीत

किंगफिशर एयरलाईंस की बक़ा की जद्द-ओ-जहद और दीगर एयरलाईंस को दरपेश मुश्किलात के पेशे नज़र मर्कज़ी वज़ीर शहरी हवाबाज़ी अजीत सिंह ने आज वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से मुलाक़ात की और समझा जाता है कि शहरी हवाबाज़ी की सनअत को दरपेश मुश्किलात पर

किंगफिशर एयरलाईंस की बक़ा की जद्द-ओ-जहद और दीगर एयरलाईंस को दरपेश मुश्किलात के पेशे नज़र मर्कज़ी वज़ीर शहरी हवाबाज़ी अजीत सिंह ने आज वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से मुलाक़ात की और समझा जाता है कि शहरी हवाबाज़ी की सनअत को दरपेश मुश्किलात पर तबादला-ए-ख़्याल किया।

ताहम मर्कज़ी वज़ीर ने वज़ीर-ए-आज़म से मुलाक़ात और बातचीत की तफ्सीलात का इन्किशाफ़ करने से गुरेज़ करते हुए सिर्फ इतना कहा कि कई मसाइल पर बातचीत हुई है। क़ब्लअज़ीं उन्होंने कहा था कि बैंक्स को कर्जे़ जारी करने की हिदायत नहीं दी जा सकती लेकिन एयरलाईंस की हिफ़ाज़त के बारे में समझौते करने के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी।

ताहम अजीत सिंह ने कहा कि मौजूदा माली बोहरान जो एयरलाईंस को दरपेश है एक ज़रूरी मसला है लेकिन मुलाज़मीन के मुख़्तलिफ़ ज़मरों बिशमोल पायलेट्स की हड़ताल की वजह से परवाज़ों में ख़लल अंदाज़ी पैदा हुई है।

TOPPOPULARRECENT