एयरसेल- मैक्सिस सौदा : स्वामी को 2 हफ़्तों मे साबित करनी होगी चिदंबरम की भूमिका

एयरसेल- मैक्सिस सौदा : स्वामी को 2 हफ़्तों मे साबित करनी होगी चिदंबरम की भूमिका
Click for full image

सर्वोच्च न्यायलय ने आज बीजेपी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी को 2 हफ़्तों का वक्त दिया |

 

बीजेपी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी को आज सर्वोच्च न्यायालय ने 2 हफ़्तों का वक्त दिया ताकि वे ऐसे सबूत पेश कर सकें जिससे यह साबित हो को चिदंबरम ने

“आर्थिक मामलों के पुनरीक्षण के लिए बनी मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीईए)” से सलाह-मशवरा किये बिना जानपूछ कर एयरसेल-मैक्सिस सौदे को ऍफ़ऑयपीबी की अनुमति दे दी |

 

खुद दलील पेश करते हुए स्वामी ने ‘मुख्य न्यायाधीश जे एस खेहर’  के नेतृत्व वाली बेंच को दलील दी की किसी भी विदेशी निवेश जिसका मूल्य 600 करोड़ रुपये से ज़्यादा होता है उसको ‘ऍफ़ऑयपीबी’ की अनुमति देने से पहले ‘सीसीईए’ के पास मज़ूरी के लिए भेजना पड़ता है |

 

एयरसेल-मैक्सिस सौदे का कुल मूल्य डॉ स्वामी के अनुसार 3500 करोड़ रुपये था |

 

“क्या पूर्व वित् मंत्री इस बारे में जानते थे की सौदा 600 करोड़ रुपये से ज़्यादा का था और उन्हें इसके लिए पहले सीसीईए की अनुमति लेनी चाहिए थी”, मुख्य न्यायधीश खेहर ने पूछा |

 

“वो देश के वित् मंत्री थे, उन्हें यह पता ही होना चाहये,” स्वामी ने कहा |

 

“उन्हें पता होना चहिये था यह एक अलग बात है , आपके पास इस बात का कोई सबूत है की उन्हें यह पता था? अगर ऐसा कोई सबूत है तो उसे हमारे सामने पेश करें”, मुख्य न्यायधीश खेहर ने कहा |

 

“आपको हमे पक्के सबूत देने होंगे जिससे साबित हो सके की उनका (चिदंबरम) हाथ इस मामले में है | हम छोटे से छोटे, बड़े से बड़े किसी भी व्यक्ति को नोटिस जारी करेंगे परंतु आप पहले ठोस सबूत पेश कीजिये”, मुख्या न्यायधीश खेहर ने स्वामी से कहा |

 

न्यायलय ने स्वामी को सबूत पेश करने के लिए 2 हफ्ते का वक्त दिया है, जिसे स्वामी ने स्वीकार किया है |

Top Stories