एल एल एम साल अव्वल में कम निशानात(प्रश्न‌) देने की शिकायत

एल एल एम साल अव्वल में कम निशानात(प्रश्न‌) देने की शिकायत
हैदराबाद।२५अक्टूबर: सैंटर फ़ार डस्टिनस एजूकेशन आचार्य नागर जना यूनीवर्सिटी, गुंटूर, आंधरा प्रदेश के तलबा ने गवर्नर आंधरा प्रदेश को एक मकतूब में कहा कि इस सैंटर ने ईल ईल ऐम साल अव्वल के तलबा को तालीमी साल 2011-12-ए-के लिए मुनाक़िदा इमत

हैदराबाद।२५अक्टूबर: सैंटर फ़ार डस्टिनस एजूकेशन आचार्य नागर जना यूनीवर्सिटी, गुंटूर, आंधरा प्रदेश के तलबा ने गवर्नर आंधरा प्रदेश को एक मकतूब में कहा कि इस सैंटर ने ईल ईल ऐम साल अव्वल के तलबा को तालीमी साल 2011-12-ए-के लिए मुनाक़िदा इमतिहानात में तमाम पर्चों में उन के परफ़ार्मैंस के मुक़ाबिल कम निशानात दिये, जिस की वजह से कई तलबा उन के मजमूई(सामूहिक‌) फ़ीसद से महरूम हो गई।

नीज़ ये अमर हैरतअंगेज़ है कि ईल ईल ऐम के पर्चों का असपाट वीलीवईशन आचार्य नागर जना यूनीवर्सिटी की जानिब से मुनाक़िद नहीं किया। इस काम को किसी दूसरी यूनीवर्सिटी के तफ़वीज़ किया गया। इस तरह ईल ईल ऐम साल अव्वल के तमाम तलबा को एक सख़्त धक्का पहुंचा, क्योंकि उन्हें इमतिहान में इन की कारकर्दगी के मुक़ाबिल कम निशानात हासिल हुई।

मुस्तक़बिल(भविष्य‌) में लैक्चरर बनने के ख़ाहां तलबा के लिए ये एक बड़ा नुक़्सान ही। क्योंकि इस के लिए यू जी सी और तमाम यूनीवर्सिटीज़ के क़वाइद के मुताबिक़ 55 फ़ीसद मजमूई निशानात लाज़िमी हैं। इन तलबा ने उन के मकतूब में गवर्नर से अपील की कि इस मुआमला में अच्छी तरह तहक़ीक़ात(जांच‌) करवाई जाय और इस सिलसिला में ज़रूरी कार्रवाई की जाय ताकि हज़ारों तलबा के साथ इंसाफ़ हो और उन के करियर का तहफ़्फ़ुज़ हो।

Top Stories