एवरेस्ट फतह करने वाली पहली सऊदी खातून

एवरेस्ट फतह करने वाली पहली सऊदी खातून
जद्दा, 19 मई: सऊदी अरब की एक खातून ने दुनिया की सबसे बुलंद चोटी एवरेस्ट पर परचम लहरा कर तारीख बना दी है। पच्चीस साल की राहा मोहर्रक एवरेस्ट पर चढ़ने वाली सऊदी अरब की पहली खातून बन गई हैं। इसके साथ ही वह एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचने वाली

जद्दा, 19 मई: सऊदी अरब की एक खातून ने दुनिया की सबसे बुलंद चोटी एवरेस्ट पर परचम लहरा कर तारीख बना दी है। पच्चीस साल की राहा मोहर्रक एवरेस्ट पर चढ़ने वाली सऊदी अरब की पहली खातून बन गई हैं। इसके साथ ही वह एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचने वाली सबसे नौजवान सऊदी शहरी भी बन गई हैं।

राहा के चार मेम्बर वाली टीम में शामिल कतर और फ़िलीस्तीन के मेमबर भी इस बुलंद चोटी पर चढ़ने वाले अपने-अपने मुल्क के पहले शहरी बन गए हैं।

टीम का टार्गेट ( हदफ) नेपाल में तालीम से जुड़े प्रोग्रामों के लिए दस लाख डॉलर (5,47,95,000 रुपए) जुटाना था।

राहा जद्दा की रहने वाली हैं। राहा अब दुबई में रहती हैं। मुहिम की टीम के अरकान ( Members) कहते हैं कि सऊदी अरब जैसे इस्लामी मुल्क की साकिन राहा को अपना टार्गेट हासिल करने के लिए कई रूकावटों का सामना पड़ा। मोहर्रक के लिए घर वालों की इज़ाज़त हासिल करना, “ख़ुद पहाड़ जितनी ही बड़ी चुनौती” थी।

हालांकि अब मोहर्रक के घर वाले राहा की ताइद करता है। वेबसाइट के मुताबिक राहा का कहना है, “मुझे ‘सबसे पहला’ होने से कोई फ़र्क नहीं पड़ता। जब तक कि यह किसी और को दूसरे मुकाम पर आने के लिए हौसला अफ्ज़ाई न करे।”

Top Stories