Monday , December 11 2017

एशया ए कोचिक में चीन के मुक़ाबले का अमेरीकी मंसूबा

* हिंदूस्तान अमेरीकी इरादों पर बेचैन: एनटोनी, हिंद ,अमेरीका रक्षा मंत्रीयों की मुलाक़ात

* हिंदूस्तान अमेरीकी इरादों पर बेचैन: एनटोनी, हिंद ,अमेरीका रक्षा मंत्रीयों की मुलाक़ात
नई दिल्ली । हिंदूस्तान ने आज वाज़िह कर दिया कि वो अमेरीका के अपने समुंद्री फौज के बेड़े के बड़े हिस्से को एशया ए कोचिक के इलाक़ा में तैनात‌ करने के इरादे पर बेचैन है। वज़ीर-ए-दिफ़ा (रक्षा मंत्री) अमेरीका ने अमेरीका के इस इरादे का एलान करते हुए कहा था कि इस तैनाती का मक़सद चीन पर ये वाज़िह कर देना है कि अमेरीका इस इलाके कि बडे पैमाने पर हिफाजत‌ चाहता है।

वफ़द की सतह की एक मुलाक़ात के दौरान हिंदूस्तान के वज़ीर-ए-दिफ़ा(रक्षा मंत्री) ए के एनटोनी, उन के अमेरीकी हम मंसब लीवन पनेटा ने यकिन‌ दिया कि हिंदूस्तान को टेक्नोलोजी के दोहरे इस्तिमाल को आसान‌ करने इबतिदाई इक़दामात किए जाएंगे ताकि हिंदूस्तान जो ये दावा कर रहा था कि अमेरीकी पैमाने उसे नफ़ीस चिजों की दरामद से हिंदूस्तान को महरूम कर देने जैसा हैं।

हिंदूस्तान के वज़ीर-ए-दिफ़ा (रक्षा मंत्री) ए के एनटोनी ने एशिया ए कोचिक के इलाके में बडे पैमाने पर हिफाजत के इंतेज़ामात को मज्बुत‌ करने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कहा कि तमाम मुताल्लिक़ा मुलकों के लिए तेज‌ रफ़्तार से कोशीशें की जानी चाहीए।

हिंदूस्तान की वज़ारत-ए-दिफ़ा के तर्जुमान(रक्षा मंत्रालय के अनुवादक‌) सीतानशो कार ने मुलाक़ात के बारे में तफ़सीलात से अख़बारी नुमाइंदों को वाक़िफ़ करवाते हुए कहा कि हिंदूस्तान ने अमेरीकी समुंद्री फौज के बेडे के बड़े हिस्से जिन में एयरपोर्टवाले समुंद्री जहाज़ों को एशया ए कोचिक के इलाके में तैनात‌ करने के अमेरीकी मंसूबों कि वजह से हिंदूस्तान ने अपना एक मौक़िफ़ इख़तियार किया है और इस का एलान किया गया हैकि हिंदूस्तान इलाक़ा में ताक़त के संतुलन‌ के अमेरीका के मंसूबों में अहम‌ हैसियत रखता है।

इस हिक्मत-ए-अमली में हिंदूस्तान के किरदार पर अपना विचार जाहिर‌ करते हुए अमेरीका के वज़ीर-ए-दिफ़ा लीवन पनेटा ने ओडि़शा के एक इजतिमा से बातचित‌ के दौरान कहा कि हिंदूस्तान के साथ फौजी मदद इस हिक्मत-ए-अमली में एक रुकावट है। हिंदूस्तान इस इलाके के बडे और सरगर्म मुल्कों में से एक है, जिस के पास बडी काबिल‌ फ़ौज मौजूद है।

जुनूबी बहर-ए-चीन में जो एशिया ए कोचिक के इलाके में वाके है, झगडे से मुताल्लिक़ मसलों में लिपीत मुलको के बारे में हिंदूस्तान के वज़ीर-ए-दिफ़ा ए के एनटोनी ने पनेटा से कहा कि हिंदूस्तान इंटरनेशनल समुंद्री हुदूद में सब के लिए आज़ादाना और बगैर किसी रुकावट जहाज़ चलाने की ताईद में है। चीन का पूरे जुनूबी बहर-ए-चीन के इलाके पर अपने इक़तिदार का दावा है और इस के इन तमाम मुलकों के साथ इस मसले पर झगडे हैं, जो इस में लिपीत‌ हैं। मिसाल के तौर पर वैतनाम और फिलीपाइन से चीन का झगडा मौजूद है।

वज़ीर-ए-दिफ़ा अमरीका लीवन पनेटा कल ही 3 रोज़ा सरकारी दौरे हिंद पर नई दिल्ली पहुंचे और उन्हों ने सब से पहले प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह और हिंदूस्तान के क़ौमी सलामती सलाहकार‌ शिव शंकर मेनन से मुलाक़ात करके उन से आपसी ताल्लुक़ात पर सौचविचार‌ किया।

अमेरीका चाहता है कि एशिया ए कोचिक के इलाके में उभरती हुई ताक़त चीन के साथ संतुलन‌ क़ायम करने के लिए हिंदूस्तान को बडी ताक़त के तौर पर उभारा जाये।

TOPPOPULARRECENT