Saturday , January 20 2018

एस एम् एस से सड़क छाप आशिकों की गिरफ़्तारी मुम्किन

त्रिवंतपुरम 13 अक्तूबर (पी टी आई) रियासत केरला यूं तो लड़कीयों और ख़वातीन से छेड़ छाड़ करने के लिए दिल्ली की तरह बदनाम नहीं है लेकिन इस के बावजूद भी जो वाक़ियात रौनुमा होते हैं हुकूमत इन का अज़ाला करना चाहती है।

त्रिवंतपुरम 13 अक्तूबर (पी टी आई) रियासत केरला यूं तो लड़कीयों और ख़वातीन से छेड़ छाड़ करने के लिए दिल्ली की तरह बदनाम नहीं है लेकिन इस के बावजूद भी जो वाक़ियात रौनुमा होते हैं हुकूमत इन का अज़ाला करना चाहती है।

केराला वूमेंस कमीशन की जानिब से ऐस ऐम ऐस अलर्ट इस सिलसिला में एक कड़ी है जिस से ख़वातीन से छेड़छाड़ करने वालों को ये पता भी नहीं चल सकेगा कि उन पर नज़र रखी जा रही है और वो किसी भी वक़्त गिरफ़्तार हो सकते हैं।

537252 एक ऐसा जादूई नंबर है जिसे ख़वातीन डाल करके कमीशन से मदद तलब करसकती हैं बशर्तिके उन्हें ऐसा महसूस होक्का उन के साथ छेड़ख़ानी की जा रही है या वो किसी मुसीबत में मुबतला हो सकती हैं। कमीशन ऐसे तमाम ऐस ऐम ऐस रियास्ती पुलिस के मोनिटरिंग रुम को डसपाच कर देगा जिस के फ़ौरी बाद भेजने वाली ख़ातून के नंबर का पता लगाते हुए मुक़ामी पुलिस स्टेशन से मदद फ़राहम की जाएगी और ख़ातियों को गिरफ़्तार किया जा सकेगा।

TOPPOPULARRECENT