एस एम कृष्णा को एक और धक्का, हाइकोर्ट में अपील ख़ारिज

एस एम कृष्णा को एक और धक्का, हाइकोर्ट में अपील ख़ारिज
बैंगलोर, २१ जनवरी ( पी टी आई) वज़ीर-ए-ख़ारजा एस एम कृष्णा को आज मज़ीद एक धक्का लगा जब कर्नाटक हाईकोर्ट ने 1999 और 2003 के दौरान बहैसीयत चीफ़ मिनिस्टर उन के दौर में माहौलियाती तौर पर मख़दूश बाज़ जंगलाती इलाक़ों के महफ़ूज़ मौक़िफ़ को ख़तम् करने से मुत

बैंगलोर, २१ जनवरी ( पी टी आई) वज़ीर-ए-ख़ारजा एस एम कृष्णा को आज मज़ीद एक धक्का लगा जब कर्नाटक हाईकोर्ट ने 1999 और 2003 के दौरान बहैसीयत चीफ़ मिनिस्टर उन के दौर में माहौलियाती तौर पर मख़दूश बाज़ जंगलाती इलाक़ों के महफ़ूज़ मौक़िफ़ को ख़तम् करने से मुताल्लिक़ उन के ख़िलाफ़ इल्ज़ामात की तहक़ीक़ात को रद्द करने से मुताल्लिक़ रियास्ती लोक आयुक़्त के अहकाम को आज कुल अदम कर दिया।

ताहम मिस्टर कृष्णा को एक जुज़वी राहत भी मिली जब अदालत ने रियास्ती हुकूमत के इदारा मैसूर मेज़ल्स मैं बदइंतिज़ामी से मुताल्लिक़ उन के ख़िलाफ़ आइद कर्दा इल्ज़ामात को मुस्तर्द करदिया। ये रियासत का एक असासी इदारा है जो मुख़्तलिफ़ इदारों को ख़ाम लोहा फ़राहम किया जाता था जिस में बदइंतिज़ामी के सबब सरकारी ख़ज़ाना को भारी नुक़्सानात होने का इल्ज़ाम आइद किया गया था।

लोक आयुक़्त की ख़ुसूसी अदालत की जानिब से उन के ख़िलाफ़ तहक़ीक़ात के लिए दिसंबर 2011 में एक ख़ानगी दरख़ास्त गुज़ार की तरफ़ से दायर कर्दा अपील को कुलअदम क़रार देने के लिए मिस्टर कृष्णा ने अया अपील की थी जिस को मुस्तर्द करते हुए रियास्ती हाईकोर्ट के जस्टिस एन आनंदा ने लोक आयुक़्त पुलिस को मादिनी दौलत से मालामाल जंगलाती इलाक़ा के महफ़ूज़ मौक़िफ़ को ख़तम करने से मुताल्लिक़ मिस्टर कृष्णा के रोल की तहक़ीक़ात जारी रखने की हिदायत की है।

जज ने अपने फ़ैसले में कहा कि दरख़ास्त को जुज़वी तौर पर क़बूल किया गया है (लोक आयवकत अदालत के) नाक़िस हुक्म के हवाला में तरमीम की गई है। मख़दूश जंगलाती इलाक़ा के महफ़ूज़ मौक़िफ़ को ख़तन करते हुए उसे ग़ैर महफ़ूज़ बनाने के इल्ज़ामात की तहक़ीक़ात जारी रखी जाएंगी लेकिन रियास्ती सरकारी इदारा में ये अन्ततामी के इल्ज़ामात को मुस्तर्द किया जाता है।

Top Stories