Monday , December 18 2017

एस पी मेदक के तबादला का ख़ैरमक़दम : हाफ़िज़ पीर शब्बीर अहमद

सदर जमीयत-ए-उलमा आंधरा प्रदेश मौलाना हाफ़िज़ पीर शब्बीर अहमद ऐम एलसी ने संगा रेड्डी के पुर तशद्दुद वाक़िया के बाद सुपरिनटेनडेनट पुलिस ज़िला मेदक के तबादला के अहकाम का ख़ौर मक़दम करते हुए कहा है के जमीयत-ए-उलमा इबतदा-ए-से ही ये मु

सदर जमीयत-ए-उलमा आंधरा प्रदेश मौलाना हाफ़िज़ पीर शब्बीर अहमद ऐम एलसी ने संगा रेड्डी के पुर तशद्दुद वाक़िया के बाद सुपरिनटेनडेनट पुलिस ज़िला मेदक के तबादला के अहकाम का ख़ौर मक़दम करते हुए कहा है के जमीयत-ए-उलमा इबतदा-ए-से ही ये मुतालिबा करती आरही है कि जिन मुक़ामात पर फ़िर्का वाराना फ़सादात होँ वहां के ज़िला कलक्टर और सुपरिनटेनडनट पुलिस और दीगर मुताल्लिक़ा ओहदेदारों को मुअत्तल करदिया जाय।

इन वाक़ियात की ग़ैर जानिबदाराना तहक़ीक़ात करवाई जाएं और हक़ीक़ी ख़ातियों को सख़्त सज़ा-ए-दी जाय। उन्हों ने कहा कि बेहतर होता कि इन वाक़ियात के फ़ौरी बाद सुपरिनटेनडनट का तबादला अमल में आता, लेकिन इस मुआमला में ताख़ीर हुई और दीगर ओहदेदारों के साथ इजतिमाई तौर पर उन का तबादला हुआ है ।

ताहम जो भी इस का ख़ौर मक़दम किया जाना चाहीए। मौलाना हाफ़िज़ पीर शब्बीर अहमद ने मज़ीद कहा कि संगा रेड्डी के फ़सादात के बाद जिन बेक़सूर नौजवानों को गिरफ़्तार किया गया है उन पर से मुक़द्दमात वापिस लिए जाएं क्योंकि इन अफ़राद पर इंतिहाई सख़्त दफ़आत लगाई गई हैं।

इस ताल्लुक़ से चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी से भी नुमाइंदगी की गई है और उन्हों ने इस मुआमला का जायज़ा लेने का तयक्कुन दिया है। उन्हों ने कहा कि इस ताल्लुक़ से भी आजिलाना इक़दामात की ज़रूरत है।

TOPPOPULARRECENT