Thursday , December 14 2017

ए पी एक्सप्रेस का नाम तेलंगाना स्टेट एक्सप्रेस करने से इत्तेफ़ाक़

रेलवे बोर्ड ने ए पी एक्सप्रेस ट्रेन का नाम तबदील करते हुए तेलंगाना स्टेट एक्सप्रेस करने से इत्तेफ़ाक़ करलिया है। ताहम विजयवाड़ा से चलाई जाने वाली हज़रत निज़ामुद्दीन ट्रेन को ए पी एक्सप्रेस से मौसूम किया जा रहा है जिस के लिए बहुत जल्

रेलवे बोर्ड ने ए पी एक्सप्रेस ट्रेन का नाम तबदील करते हुए तेलंगाना स्टेट एक्सप्रेस करने से इत्तेफ़ाक़ करलिया है। ताहम विजयवाड़ा से चलाई जाने वाली हज़रत निज़ामुद्दीन ट्रेन को ए पी एक्सप्रेस से मौसूम किया जा रहा है जिस के लिए बहुत जल्द अहकामात जारी होने का इमकान है।

रियासत की तक़सीम के बाद तेलंगाना हुकूमत ने रेलवे बोर्ड को मकतूब रवाना करते हुए हर दिन हैदराबाद से दिल्ली चलाई जाने वाली ट्रेन ए पी एक्सप्रेस का नाम तबदील करते हुए तेलंगाना स्टेट एक्सप्रेस से मौसूम करने का मुतालिबा करते हुए मकतूब रवाना किया था जिस से रेलवे बोर्ड ने इत्तेफ़ाक़ करलिया है। तेलंगाना की नुमाइंदगी करने वाले अरकाने पार्लियामेंट ने दिल्ली में मर्कज़ी वज़ीर रेलवे से मुलाक़ात करते हुए उन्हें याददाश्त पेश की थी कि रियासत की तक़सीम के 8 माह बाद भी हैदराबाद से दिल्ली को ए पी एक्सप्रेस के नाम से ट्रेन चलाई जा रही है।

रेलवे बोर्ड ने विजयवाड़ा से चलाई जाने वाली हज़रत निज़ामुद्दीन के नाम से चलाने से भी इत्तेफ़ाक़ किया है। ग़ौर करनेवाली बात ये हैके मुस्लिम नामों से बहुत कम ट्रेन चलाई जा रही हैं इस में भी एक नाम को कम करदेने की तजवीज़ पर संजीदगी से ग़ौर किया जा रहा है।

रेलवे बोर्ड की इस तजवीज़ के ख़िलाफ़ सियासी, समाजी, रज़ाकाराना तंज़ीमों को आवाज़ उठाने की ज़रूरत है। फ़ैसला होने से पहले ही वज़ारत रेलवे और रेलवे बोर्ड के अलावा चीफ़ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश एन चंद्रबाबू नायडू को तवज्जा दिलाते हुए रेलवे बोर्ड को हज़रत निज़ामुद्दीन ट्रेन का नाम तबदील करने से रोका जा सकता है। वक़्त गुज़र जाने के बाद सिवाए हाथ मिलने के कुछ भी बाक़ी नहीं रहेगा।

TOPPOPULARRECENT