Wednesday , December 13 2017

ए पी के नए दारुल हुकूमत की अंदरून पाँच साल तामीर

आंध्र प्रदेश के चीफ़ मिनिस्टर एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि गुंटूर और विशाखापटनम के दरमयान नए दारुल हुकूमत की तामीर के लिए अराज़ी देने से मालकीयन के अदम इत्तेफ़ाक़ पर उनकी हुकूमत हुसूल अराज़ी का क़ानून इस्तेमाल करेगी। चंद्रबाबू नायड

आंध्र प्रदेश के चीफ़ मिनिस्टर एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि गुंटूर और विशाखापटनम के दरमयान नए दारुल हुकूमत की तामीर के लिए अराज़ी देने से मालकीयन के अदम इत्तेफ़ाक़ पर उनकी हुकूमत हुसूल अराज़ी का क़ानून इस्तेमाल करेगी। चंद्रबाबू नायडू ने दारुल हुकूमत से मुताल्लिक़ मुशावरती कमेटी के मुनाक़िदा मीटिंग की सदारत की।

उन्होंने कहा कि हुसूल अराज़ी के कामों की निगरानी के लिए बहुत जल्द एक स्पेशल ऑफीसर का तक़र्रुर किया जाएगा। चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि कृष्णा और गुंटूर के कलक्टरों को मुताल्लिक़ा अरकान मुक़न्निना के साथ ये ज़िम्मेदारी दी जाएगी कि वो अराज़ी की फ़राहमी के लिए मालकीयन को रज़ामंद करें।

उन्होंने कहा कि अराज़ी देने वालों को क़ीमत के अलावा 10 साल तक फ़ी एकड़ 25000 रुपये सालाना इज़ाफ़ी रक़म बतौर तरग़ीबात दीए जाऐंगे। चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि आइन्दा पाँच साल के दौरान 30,000 एकड़ के रकबा पर मुहीतनया रियासती दारुल हुकूमत तामीर करलिया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT